वाशिंगटन। पाकिस्‍तान में हालात ठीक नहीं हैं। अमेरिका ने अपने नागरिकों को चेताया है कि वह पाकिस्‍तान की यात्रा करने से बचें। पाकिस्‍तान के कई क्षेत्रों में आतंकी संगठन सक्रिय हैं। भारत भी इस बात को कई वैश्विक मंचों पर साझा कर चुका है। अब अमेरिका ने भी अपने नागरिकों को चेताया है कि पाकिस्‍तान के कई क्षेत्रों में हालात बेहद खराब हैं।

पाकिस्‍तान के इन इलाकों में न जाने की सलाह

अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए ट्रैवल एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि पाकिस्‍तान के कई क्षेत्रों में हालात ठीक नहीं हैं। ऐसे में अमेरिकी नागरिकों को खासतौर पर पाकिस्‍तान में आतंकवाद और सांप्रदायिक हिंसा के कारण तनावग्रस्‍त क्षेत्रों में जाने बचना चाहिए। एडवाइजरी में कहा गया, ‘अमेरिका के नागरिकों को बलूचिस्‍तान और खैबर पख़्तूनख़्वा प्रांत के साथ पूर्ववर्ती संघीय प्रशासित कबायली क्षेत्रों (FATA) में नहीं जाना चाहिए। इन क्षत्रों में आतंकवादियों के सक्रिय होने के कारण अपहरण की भी संभावना है। कई क्षेत्रों में खतरा बहुत ज्‍यादा है।’ अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए ये लेवल-3 की एडवाइजरी जारी की है।

अमेरिका की लेवल-3 की एडवाइजरी

अमेरिका में लेवल-3 की एडवाइजरी को बेहद गंभीरता से लिया जाता है। ऐसी एडवाइजरी तब जारी की जाती है, जब किसी जगह पर जाने से यात्रियों और आगंतुकों को दीर्घकालिक या गंभीर स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए सलाह दी जाती है कि ऐसी जगह पर अगर जरूरी न हो, तो नहीं जाना चाहिए। बता दें कि पाकिस्‍तान में भी काफी अमेरिकी रह रहे हैं। ऐसे अमेरिकी नागरिकों को और संभल कर रहने की जरूरत है।

LoC को लेकर भी नागरिकों को चेताया

अमेरिका ने इसके साथ ही अपने नागरिकों को भारत और पाकिस्‍तान के बीच खिंची लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) की ओर जाने से भी बचने की सलाह दी है। एडवाइजरी में कहा गया है कि एलओसी पर आतंकवादियों के साथ-साथ सशस्‍त्र संघर्ष की संभावना है। ऐसे में लोग संकट में घिर सकते हैं। इस संकट से बचने के लिए अमेरिकी नागरिकों बेहद सतर्क रहने की जरूरत है।

अमेरिकी राजनयिकों को निशाने बनाने का रहा है पुराना इतिहास

एडवाइजरी के कहा गया है कि आतंकवादी बहुत तेजी से बिना किसी चेतावनी के हमला कर सकते हैं। आतंकवादी परिवहन केंद्रों, बाजारों, शॉपिंग मॉल, सैन्य प्रतिष्ठानों, हवाई अड्डों, विश्वविद्यालयों, पर्यटन स्थलों, स्कूलों, अस्पतालों, पूजा स्थलों और सरकारी सुविधाओं को निशाना बना सकते हैं। आतंकवादियों ने अतीत में अमेरिकी राजनयिकों और राजनयिक सुविधाओं को निशाना बनाया है। इसके मद्देनजर लोगों को सावधान रहना चाहिए।

"
""
""
""
""
"

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ये भी पढ़ें