Home उत्तर प्रदेश महिला पत्रकार का पीछा कर रहे थे शोहदे, अब पहुंचे जेल, पत्रकार...

महिला पत्रकार का पीछा कर रहे थे शोहदे, अब पहुंचे जेल, पत्रकार ने जताया आभार

राजसत्ता पोस्ट

महिला पत्रकार का पीछा कर रहे थे शोहदे, अब पहुंचे जेल, पत्रकार ने जताया आभार

मेरठ जिले का है मामला, मुख्यमंत्री कार्यालय ने लिया त्वरित संज्ञान, ट्वीट शिकायत पर तुरंत हुई कार्रवाई

गाड़ी नम्बर की नहीं थी जाबकारी, फिर भी धरे गए शाहबाज और वासिक

लखनऊ,13 जनवरी: मेरठ में एक महिला पत्रकार का पीछा करना शोहदों को भारी पड़ गया।पीड़ित महिला पत्रकार ने शोहदों की फोटो और वीडियो ट्वीट कर शासन-प्रशासन से मदद की गुहार लगाई और मुख्यमंत्री कार्यालय के निर्देश पर तत्परता दिखाते हुए पुलिस ने चंद घंटों में ही दोनों शोहदों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए शोहदों की पहचान शाहबाज और मोहम्मद वासिक के रूप में की गई है।पत्रकार ने यूपी पुलिस को इस त्वरित कार्रवाई पर धन्यवाद दिया है।

एक प्रतिष्ठित निजी मीडिया ग्रुप में सेवारत पत्रकार ने ट्विटर पर लिखा कि “डियर मेरठ पुलिस, क्या आप इन लोगों का पता लगा सकते हैं, जो लगातार हापुड़ से नई सड़क तक मेरा पीछा करते हुए छेड़छाड़ कर रहे। मैं उनके वाहन का नंबर नोट नहीं कर सकी क्योंकि उसपर नंबर प्लेट नहीं थी।”

महिला पत्रकार के इस ट्वीट के बाद मुख्यमंत्री कार्यालय ने संज्ञान लिया और वहां से निर्देश मिलते ही हरकत में आई पुलिस ने कुछ ही घंटों के भीतर दोनों शोहदों शाहबाज और मोहम्मद वासिक को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि उपरोक्त प्रकरण के संबंध में मेरठ पुलिस के द्वारा तुरंत सक्रिय होकर तत्परता से कार्रवाई करते हुए नंबर प्लेट स्कूटी पर नहीं था, बावजूद इसके चेहर के आधार पर पहचान सुनिश्चित कर अभियुक्त शाहबाज पुत्र मेहराजुद्दीन निवासी दरियागंज प्रहलाद नगर थाना कोतवाली मेरठ हाल निवासी जैदी सोसायटी थाना नौचंदी मेरठ और वासिक पुत्र कदीर निवासी दरियागंज प्रहलाद नगर थाना कोतवाली मेरठ को गिरफ्तार किया गया। इस प्रकरण में संबंधित स्कूटी ज्यूपिटर नंबर UP15CM9217 को भी बरामद किया जा चुका है। आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। पुलिस के इस ट्वीट के बाद महिला पत्रकार ने यूपी सरकार और पुलिस की जमकर प्रशंसा की। उन्होंने लिखा कि हर लड़की तब तक सुरक्षित है जब तक हमारे पास आपकी जैसी टीमें हैं।