Home खेल विराट कोहली की नजर इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज जीतने पर, रोहित...

विराट कोहली की नजर इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज जीतने पर, रोहित के फिट होने की पूरी उम्मीद

पुणे। असाधारण प्रतिभा के धनी सूर्यकुमार यादव को इंग्लैंड के खिलाफ शुक्रवार को होने वाले दूसरे मैच के जरिये वनडे क्रिकेट में पदार्पण का मौका मिल सकता है, जबकि भारत की नजरें इस मैच के जरिये एक और सीरीज अपने नाम करने पर लगी होंगी।

श्रेयस अय्यर कंधे की हड्डी खिसकने के कारण सीरीज से बाहर हो गए हैं। ऐसे में फोकस सूर्यकुमार और वनडे क्रिकेट में उनके पदार्पण पर है। सूर्यकुमार ने टी-20 क्रिकेट में शानदार पदार्पण करके अपना दावा पुख्ता किया है। कोरोना महामारी से पहले श्रेयस भारतीय वनडे टीम के सबसे अहम खिलाडि़यों में से एक थे, लेकिन भारत की बेंच स्ट्रेंथ इतनी मजबूत है कि अब पदार्पण करने जा रहा खिलाड़ी भी विश्व चैंपियन टीम के लिए खतरनाक लग रहा है।

रोहित के फिट होने की उम्मीद : कप्तान विराट कोहली समेत टीम प्रबंधन के सामने चयन की दुविधा होगी। रवींद्र जडेजा तीन महीने से टीम से बाहर हैं, लेकिन टेस्ट में अक्षर पटेल और उसके बाद वनडे में क्रुणाल पांड्या ने उनकी कमी महसूस नहीं होने दी। आइपीएल के कारण मशहूर हुए प्रसिद्ध कृष्णा ने वनडे क्रिकेट में पदार्पण के साथ शानदार प्रदर्शन करके चार विकेट चटकाए। भारत के लिए सबसे बड़ी राहत शिखर धवन का फॉर्म में लौटना रही, जिन्होंने 98 रन बनाए। टी-20 सीरीज से बाहर रहने के बाद उन पर अच्छे प्रदर्शन का काफी दबाव था।

रोहित शर्मा को पहले मैच में कोहनी में चोट लगी, लेकिन उनके फिट होने की उम्मीद है। रोहित को ब्रेक देने पर शुभमन गिल दूसरे मैच में धवन के साथ पारी का आगाज कर सकते हैं। ऐसे में राहुल मध्यक्रम में उतरेंगे। वैसे सूत्रों के अनुसार रोहित की चोट गंभीर नहीं है और वह खेलने को बेताब हैं। समझा जाता है कि रिषभ पंत बल्लेबाज के तौर पर ही खेलेंगे और राहुल विकेटकीपिंग करेंगे।

नटराजन या सिराज को मिल सकता है मौका : चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने पहले मैच में नौ ओवर में 68 रन दिए, जिनकी जगह लेग स्पिनर युजवेंद्रा सिंह चहल को उतारा जा सकता है। भुवनेश्वर कुमार, कृष्णा और शार्दुल ठाकुर की तेज तिकड़ी ने 10 में से नौ विकेट लिए और वे इस लय को कायम रखना चाहेंगे। ठाकुर लगातार खेल रहे हैं और विविधता के लिए टी नटराजन या मुहम्मद सिराज को उतारा जा सकता है।

इंग्लैंड की बढ़ी परेशानी : दूसरी ओर इंग्लैंड की कोशिश यह मैच जीतकर सीरीज में बने रहने की होगी। कप्तान इयोन मोर्गन और बल्लेबाज सैम बिलिंग्स को पहले मैच में लगी चोट ने उसकी परेशानियां बढ़ा दी हैं। जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय ने अच्छा प्रदर्शन किया था और उनसे इसके दोहराव की उम्मीद होगी। मध्यक्रम अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सका। बेन स्टोक्स, जोस बटलर और मोइन अली नाकाम रहे। इंग्लैंड को बड़ा स्कोर बनाना है तो इन तीनों को अच्छी पारी खेलनी होगी। वहीं, स्पिनर आदिल रशीद और मोइन भारतीय बल्लेबाजों को परेशान नहीं कर सके और दोनों को विकेट नहीं मिले। टॉम कुर्रन को अपने भाई सैम और मार्क वुड का तेज गेंदबाजी में साथ देना होगा।

टीमें :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, शुभमन गिल, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या, रिषभ पंत, केएल राहुल, युजवेंद्रा सिंह चहल, कुलदीप यादव, क्रुणाल पांड्या, वाशिंगटन सुंदर, टी नटराजन, भुवनेश्वर कुमार, मुहम्मद सिराज, प्रसिद्ध कृष्णा, शार्दुल ठाकुर।

इंग्लैंड : इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जॉनी बेयरस्टो, सैम बिलिंग्स, जोस बटलर, सैम कुर्रन, टॉम कुर्रन, लियाम लिविंगस्टोन, मैट पार्किंसन, आदिल राशिद, जेसन रॉय, बेन स्टोक्स, रीस टॉपले, मार्क वुड, जैक बॉल, क्रिस जॉर्डन, डेविड मलान।

नंबर गेम :

-101 वनडे खेले गए हैं इंग्लैंड और भारत के बीच। इनमें से भारत ने 54 और इंग्लैंड ने 42 जीते हैं। दो मैच टाई रहे, जबकि तीन मैचों के परिणाम नहीं निकले।

–49 मैच खेले गए हैं भारत और इंग्लैंड के बीच भारतीय सरजमीं पर। इनमें से भारत ने 32 जीते हैं, जबकि इंग्लैंड ने 16 मैच जीते हैं। एक मैच टाई रहा।

–94 रन दूर हैं शिखर धवन वनडे क्रिकेट में अपने 6000 रन पूरे करने से।

–250 छक्के वनडे क्रिकेट में पूरे करने से छह छक्के दूर हैं भारत के रोहित शर्मा।