थाने में डाला पड़ाव दुष्कर्म के आरोपी की गिरफ्तारी न होने से खफा ग्रामीणों ने

खबरे सुने

फतेहाबाद। जिले के खंड भूना के एक गांव में नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने के मामले में पुलिस की कार्यप्रणाली से असंतुष्ट सैंकड़ों ग्रामीणों ने गुरुवार को भूना थाने में धरना दिया और पुलिस पर आरोपी पक्ष के साथ सांठगांठ कर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया।

ग्रामीणों के प्रदर्शन की सूचना मिलत ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए और लोगों को समझाने का प्रयास किया। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि इस मामले में महिला थाना फतेहाबाद में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया और उसकी गिरफ्तारी को लेकर प्रयास किए जा रहे है। ग्रामीणों ने पुलिस को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि अगर पुलिस ने शुक्रवार सुबह 8 बजे तक आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया तो नौ बजे वे सिरसा-चंडीगढ़ रोड पर जाम लगाने को मजबूर होंगे।

थाने में प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस आरोपी पक्ष के साथ सांठगांठ करके मामले को दबाने का प्रयास कर रही है। लड़की के साथ हुए दुष्कर्म की शिकायत के तुरंत बाद ही मुकदमा दर्ज करना चाहिए था, मगर पुलिस ने समाज में लड़की की इज्जत चली जाने व आगे चलकर कोर्ट कचहरी इत्यादि में भटकने जैसी बात कह कर मामले को दबाने का प्रयास किया गया। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि पुलिस पूरे मामले पर लीपापोती करके दोनों पक्षों में ग्रामीण स्तर पर समझौता करवाने में प्रयासरत थी।

जब पीडि़ता के पक्ष में पूरे गांव के लोग खड़े हुए तो पुलिस ने महिला थाना में आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। ग्रामीणों का आरोप है कि तीन दिन बीत जाने के बावजूद भी आरोपी खुलेआम घूम रहा है, इसलिए पुलिस की नकारात्मक कार्यप्रणाली के खिलाफ वीरवार को गांव के सैंकड़ों लोगों ने एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

गौरतलब है कि पुलिस ने पीडि़ता की मां की शिकायत पर केस दर्ज किया है। शिकायत में महिला ने कहा है कि ढाणी भोजराज निवासी मुकेश उसकी 8वीं में पढऩे वाली साढ़े 12 वर्षीय बेटी को जबरदस्ती सुनसान जगह पर खेतों में ले गया और उसे नशीला पदार्थ सुंघाकर उसके साथ दुष्कर्म किया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। भूना थानाध्यक्ष कपिल कुमार सिहाग का कहना है कि आरोपी की तलाश के लिए छापेमारी की जा रही है। इसके लिए साइबर सेल की भी मदद ली जा रही है। आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.