Home उत्तर प्रदेश हाथरस कांड के बाद से प्रतीक्षा में चल रहे नालंदा के निवासी...

हाथरस कांड के बाद से प्रतीक्षा में चल रहे नालंदा के निवासी विक्रांत वीर सिंह को वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट में पुलिस उपायुक्त के पद पर मिली तैनाती

लखनऊ। उत्तर प्रदेश को बेहद चर्चा में लाने वाले हाथरस कांड में करीब पांच महीने का निलंबन झेलने के बाद बहाल होने वाले विक्रांत वीर सिंह को वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट में पुलिस उपायुक्त के पद पर तैनाती मिली है। 2014 बैच के आइपीएस अफसर विक्रांत वीर सिंह हाथरस में एसपी के पद पर तैनात थे। इसके साथ ही शनिवार को सात आइपीएस अफसरों का तबादला किया गया है।

लखनऊ तथा गौतमबुद्धनगर के बाद प्रदेश में वाराणसी व कानपुर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू की गई है। दोनों ही महानगर में पुलिस आयुक्त तथा संयुक्त आयुक्त की तैनाती के बाद अब पुलिस उपायुक्त की तैनाती की जा रही है।

निलंबन के बाद 18 फरवरी को बहाल होने वाले विक्रांत वीर सिंह को वाराणसी में पुलिस उपायुक्त पद पर तैनात किया गया है। बिहार के नालंदा के निवासी विक्रांत वीर सिंह को उन्नाव के बाद बीते वर्ष मई में हाथरस में एसपी के पद पर तैनात किया गया था। विक्रांत वीर बहाली के बाद प्रतीक्षा सूची में चल रहे थे। विक्रांत वीर के साथ ही सात आइपीएस अधिकारियों को नई तैनाती मिली है।

सेनानायक 23वीं वाहिनी पीएसी के पद पर तैनात रहे अनूप कुमार सिंह को डीसीपी कानपुर, बीबीजीटीएस मूर्थी को एएसपी अभिसूचना मुख्यालय लखनऊ से डीसीपी कानपुर, संजीव त्यागी को एसपी डीजीपी ऑफिस को डीसीपी कानपुर, सलमान ताज को एसपी प्रशिक्षण निदेशालय लखनऊ से डीसीपी कानपुर, रवीना त्यागी को एसपी सीबीसीआइडी कानपुर से डीसीपी कानपुर और अमित कुमार-प्रथम एसपी 112 से डीसीपी वाराणसी के पद पर तैनाती मिली है।