Home उत्तर प्रदेश आईटी सेल के मंडल संयोजक कि दरोगा ने थाने के अंदर की...

आईटी सेल के मंडल संयोजक कि दरोगा ने थाने के अंदर की पिटाई, वीडियो वायरल

राजसत्ता पोस्ट

कासगंज 

जनपद कासगंज में पुलिस के दारोगा व सिपाही के द्वारा बीजेपी के आईटी सेल के मंडल संयोजक को अकारण गली गलौज कर पीटने का मामला सामने आया है। जिसके चलते एसपी ने दरोगा व सिपाही को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं बीजेपी के आईटी सेल के मंडल संयोजक में पुलिस के एक और दरोगा पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

दरअसल मामला कासगंज जनपद की गंजडुंडवारा कोतवाली क्षेत्र का है जहां पुलिस के दरोगा जगदीश कुमार बस सिपाही पंकज के द्वारा आईटी सेल के मंडल संयोजक रोहित सोलंकी के साथ बाइक से जाते समय गाली गलौज कर अभद्रता कर दी। जब मंडल संयोजक ने गाली गलौज का विरोध किया तो दरोगा और सिपाही ने मंडल संयोजक व उनके साथियों के साथ जमकर मारपीट की और थाने ले ले गए।

 

पीटते बीजेपी आईटी सेल के मंडल अध्यक्ष का वीडियो

बीजेपी आईटी सेल के मंडल संयोजक रोहित सोलंकी ने बताया कि वह पटियाली से गंजडुंडवारा अपनी बाइक से जा रहे थे बाइक पर तीन लोग बैठे हुए थे गंजडुंडवारा तिराहे पर जाम लगा हुआ था जिसके चलते दरोगा ने गाली देते हुए मंडल संयोजक व बाइक पर बैठे दो अन्य साथियों को आगे बढ़ने के लिए बोला इसके बाद मंडल संयोजक ने गाली-गलौज का विरोध किया तो दरोगा जगदीश कुमार व एक अन्य सिपाही पंकज ने मंडल संयोजक व साथियों को मोटरसाइकिल से उतार कर उनके साथ मारपीट की व थाने ले गए। 

भाजपा मंडल संयोजक रोहित सोलंकी का कहना है कि थाने पहुंचने पर एक अन्य दरोगा राजवीर सिंह ने कहा कि बीजेपी में रहोगे तो ऐसे ही पिटोगे। वहीं बीजेपी के मंडल संयोजक ने दरोगा राजवीर सिंह पर क्षेत्र में गौकशी व सट्टा कराने का भी आरोप लगाया है। बीजेपी पदाधिकारी ने कहा कि जब एक पदाधिकारी के साथ पुलिस यह व्यवहार कर रही है तो आम आदमी के साथ क्या व्यवहार करती होगी।

बाइट- रोहित सोलंकी बीजेपी मण्डल संयोजक आईटी सेल

फिलहाल बीजेपी आईटी सेल के मंडल संयोजक के साथ मारपीट करने के चलते एसपी ने तत्काल प्रभाव से दरोगा जगदीश कुमार व सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया है।

लेकिन दरोगा राजवीर सिंह के बिगड़े बोल कि बीजेपी में रहोगे तो ऐसे ही पिटोगे उत्तर प्रदेश पुलिस की छवि को दागदार कर रहा है। और यूपी पुलिस की निष्पक्षता पर भी सवाल उठ रहे हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि बीजेपी की योगी सरकार में योगी की ही पुलिस को बीजेपी से दिक्कत है।