Home उत्तराखंड उत्तराखंड कांग्रेस भी दिखा रही किसान आंदोलन के साथ एकजुटता, कृषि कानूनों...

उत्तराखंड कांग्रेस भी दिखा रही किसान आंदोलन के साथ एकजुटता, कृषि कानूनों के विरोध में सौंपे ज्ञापन

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस कमेटी किसानों से संबंधित तीन केंद्रीय कानूनों के खिलाफ मुहिम छेड़े हुए है। इस कड़ी में राज्य के 55 हजार किसानों के हस्ताक्षरित ज्ञापन गुरुवार को नई दिल्ली में पार्टी के राष्ट्रीय सचिव जेडी सीलम को सौंपे गए। इन ज्ञापनों को राष्ट्रपति को भेजा जाएगा। केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के साथ प्रदेश कांग्रेस भी एकजुटता दिखा रही है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी उपाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप और वरिष्ठ नेता शिल्पी अरोड़ा के साथ प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रीय सचिव जेडी सीलम से मुलाकात की। धीरेंद्र प्रताप ने बताया कि राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन के माध्यम से प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कृषि कानूनों का विरोध जारी है। राज्यभर से किसानों से इकट्ठा किए गए ज्ञापनों को पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व को सौंपा जा रहा है। अगले कुछ दिनों में ज्ञापनों की संख्या लाखों तक पहुंच जाएगी।

पुलिस शिकायत प्राधिकरणों में हुई सदस्यों की नियुक्ति 

शासन ने राज्य पुलिस प्राधिकरण और जिला पुलिस प्राधिकरणों में सदस्यों की नियुक्ति कर दी है। राज्य पुलिस शिकायत प्राधिकरण में चार, जिला पुलिस शिकायत प्राधिकरण देहरादून में दो और जिला पुलिस शिकायत प्राधिकरण हल्द्वानी में एक सदस्य की नियुक्ति की गई है। गुरुवार को सचिव शहरी विकास शैलेश बगोली ने इस संबंध में आदेश जारी किए। इसके अनुसार गिरधर सिंह धर्मशक्तू, जगमाल सिंह बिष्ट, जगतराम जोशी और राजकुमार सिंह राघव को राज्य पुलिस शिकायत प्राधिकरण का सदस्य बनाया गया है। राजकिशोर सिंह फर्स्वाण  व सुनीलश्री पांथरी को जिला पुलिस शिकायत प्राधिकरण देहरादून में नियुक्ति दी गई है। वहीं जिला पुलिस शिकायत प्राधिकरण नैनीताल में कमला नेगी को सदस्य बनाया गया है।