Home उत्तर प्रदेश यूपी को मिले 434 नए अफसर, पीसीएस 2019 का अंतिम परिणाम घोषित

यूपी को मिले 434 नए अफसर, पीसीएस 2019 का अंतिम परिणाम घोषित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश को नए पीसीएस अफसरों की सौगात मिल गई है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने बुधवार को पीसीएस 2019 का अंतिम परिणाम घोषित कर दिया है। परीक्षा कुल 25 प्रकार के 453 पदों की कराई गई थी, जिसमें से 434 अभ्यर्थी अंतिम रूप से सफल हुए हैं। वहीं, योग्य अभ्यर्थी न मिलने से 19 पद खाली रह गए हैं। परिणाम यूपीपीएससी की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है।

यूपीपीएससी ने 16 अक्टूबर 2019 को पीसीएस के 453, एसीएफ के दो व आरएफओ के 53 पदों की भर्ती का विज्ञापन जारी किया था। ऑनलाइन आवेदन 13 नवंबर तक लिए गए। आयोग ने 15 दिसंबर को प्रदेश के 19 जिलों में 1166 केंद्रों पर प्रारंभिक परीक्षा कराकर उसका परिणाम 17 फरवरी 2020 को जारी किया गया। वहीं, पीसीएस मुख्य परीक्षा के लिए 6119 अभ्यर्थी सफल हुए थे, जबकि भर्ती के 388 पदों के सापेक्ष साक्षात्कार के लिए 811 अभ्यर्थी सफल हुए थे। आयोग में साक्षात्कार 28, 29, 30 जनवरी, एक, दो, तीन व चार फरवरी को लिया गया। साक्षात्कार में 808 अभ्यर्थी शामिल हुए थे।

परिणाम कोर्ट के अधीन, प्राप्तांक वेबसाइट पर जल्द : आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि परिणाम हाईकोर्ट में राज्य सरकार की ओर से दाखिल याचिका के अंतिम निर्णय के अधीन रहेगा। साथ ही सशर्त चयनितों को तय तारीख के अंदर समस्त शैक्षिक दस्तावेज जमा करने होंगे। श्रेणीवार, पदवार प्राप्तांक शीघ्र वेबसाइट पर जारी किया जाएगा। इसमें सूचना का अधिकार अधिनियम-2005 के तहत प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किया जाएगा।

इन पदों के लिए नहीं हुआ साक्षात्कार : पीसीएस-2019 में सम्मिलित सामान्य अर्हता के कई पदों पर लिखित परीक्षा के आधार पर चयन हुआ है। इनमें उपकारापाल, कर निर्धारण अधिकारी, विपणन अधिकारी एवं विधि अधिकारी (मंडी परिषद) के लिए इंटरव्यू नहीं होगा। इसी प्रकार विशिष्ट अर्हता के पदों लेखा एवं संप्रेक्षा अधिकारी, विधि अधिकारी (पीडब्ल्यूडी तथा भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग) ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक व पशु चिकित्सा एवं कल्याण अधिकारी के पदों पर चयन बिना साक्षात्कार के हुआ है।

इन पदों पर नहीं मिले योग्य अभ्यर्थी : यूपीपीएससी को पीसीएस 2019 में इन पदों पर योग्य अभ्यर्थी नहीं मिले हैं। इनमें सम्मिलित विस्तार सेवा अधिकारी श्रेणी-2 के एक, श्रम प्रवर्तन अधिकारी के एक, जिला उद्यान अधिकारी श्रेणी-2 गे्रड-1 के दो, लेखा एवं सम्प्रेक्षाधिकारी के छह, पीडब्ल्यूडी में विधि अधिकारी के चार, ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक के एक, पशु चिकित्सा एवं कल्याण अधिकारी के दो, खाद्य सुरक्षा अधिकारी के दो पद शामिल हैं।

पीसीएस 2020 का अंतिम परिणाम भी इसी माह : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग पीसीएस-2020 मुख्य परीक्षा का परिणाम भी फरवरी महीने के अंत तक जारी कर सकता है। इसकी कॉपियों का मूल्यांकन जारी है। पीसीएस-2020 मेंस (मुख्य) परीक्षा 21 से 25 जनवरी तक प्रयागराज, लखनऊ व गाजियाबाद के 11 केंद्रों पर आयोजित किया गया था। इस भर्ती में 487 पद के सापेक्ष 5139 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। अभ्यर्थियों की संख्या कम होने के कारण मूल्यांकन अंतिम दौर पर है। कुछ दिनों में मूल्यांकन पूरा होने पर उसका भी परिणाम जारी कर दिया जाएगा।