समाजवादी पार्टी में विलय को तैयार चाचा की बेल जन्मदिन पर भी नही चढ़ती दिख मुंडेर ।

खबरे सुने

लखनऊ : नेता जी का 83 वें जन्मदिन पर आज होगा कुछ खास, समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव का आज जन्मदिन है, लेकिन 83वें जन्मदिन पर भी उनके भाई और बेटे के बीच 36 का आंकड़ा सुलझने का नाम नहीं ले रहा है.उम्मीद की जा रही शायद आज मामला निपट सकता है चाचा शिवपाल यादव और भतीजे अखिलेश यादव में गठबंधन अब ठंडे बस्ते में चला गया है. खबरें आ रही थीं कि शिवपाल अपनी पार्टी का समाजवादी पार्टी में विलय करा लेंगे या फिर गठबंधन हो जाएगा. इस बात का एलान मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर होना था, लेकिन अखिलेश इस बात के लिए तैयार नहीं है.
शिवपाल सिंह यादव ने सैफई में कल ही कवि सम्मेलन का आयोजन किया लेकिन अखिलेश इसमें भी नहीं पहुंचे. शिवपाल यादव आज सुबह सैफई के चंदगीराम स्टेडियम में मुलायम के जन्मदिन पर दंगल करा रहे हैं. लेकिन अखिलेश इस दौरान लखनऊ में ही रहेंगे. लखनऊ ऑफिस में अखिलेश केक काट कर जन्मदिन मनाएंगे.
साल 2017 में कई महीनों की खटपट के बाद यादव कुनबे में फूट पड़ गई थी. शिवपाल और अखिलेश के रास्ते अलग हो गए थे. पहले तो समाजवादी पार्टी पर कब्जे की लड़ाई हुई और बाद में शिवपाल यादव ने अपनी अलग पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) बनाई थी. इसके बाद से ही अखिलेश और शिवपाल में मनमुटाव है.
शिवपाल बार-बार विलय और गठबंधन की संभावना की बात कहते रहे हैं. हाल ही में चाचा-भतीजे अपनी-अपनी रथयात्रा लेकर मैदान में हैं. शिवपाल सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा को लेकर यूपी में घूमे हैं तो अखिलेश यादव विजय यात्रा को लेकर यूपी की सत्ता पर दांव ठोंक रहे हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.