स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की सुरक्षित पनाहगाह रहा है त्यागी हॉस्टल मेरठ

राजसत्ता पोस्ट न्यूज़ पोर्टल (अनुज त्यागी 8171660000)

 

स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की सुरक्षित पनाहगाह रहा है त्यागी हॉस्टल मेरठ

त्यागी हॉस्टल, मेरठ .

कभी क्रांतिकारी अपनी योजनाएं वेस्टर्न कचहरी रोड स्थित 108 साल पुराने त्यागी हॉस्टल में बनाया करते थे। यहीं चंद्रशेखर आजाद, बटुकेश्वर दत्त, विष्णु शरण दुबलिश, अशफाक उल्ला खां ठहरे। महात्मा गांधी भी यहां आ चुके हैं।


सन 1914 में निर्मित त्यागी हॉस्टल देशभर में अपनी उपलब्धियों के लिए जाना जाता है। हमें अपने पूर्वजों से सीख लेनी चाहिए कि उन्होंने आने वाली पीढ़ियों के बारे में किस कदर सोचा।
यह हॉस्टल त्यागी समाज का गौरव है। त्यागी हॉस्टल का नाम आते ही मेरठ खुद ब खुद याद आ जाता है।


त्यागी हॉस्टल ने देश की सेवा करने वाले होनहार पैदा किए हैं। त्यागी हॉस्टल राजनीति से लेकर पढ़ाई तक की पाठशाला रहा है।
एक वक्त था जब मेरठ के छात्र त्यागी हॉस्टल में ही रहना चाहते थे। क्योंकि वहाँ पढ़ाई का माहौल ही इतना अच्छा था। बड़े नेता, सिविल सर्वेंट और ज्यूडिशियरी अफसर दिए त्यागी हॉस्टल की स्थापना शालिगराम त्यागी जी और त्यागी समाज के अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने की थी।

त्यागी हॉस्टल से ही असौड़ा रियासत के तत्कालीन राजा चौधरी रघुवीर नारायण सिंह त्यागी ने गांधी जी के आह्वान पर अंग्रेजों के काले कानून नमक का उल्लंघन किया था। स्वतंत्रता सेनानी महावीर त्यागी और ओमप्रकाश त्यागी, शांति त्यागी जैसे दार्शनिक नेता भी दिए। त्यागी हॉस्टल के 108 साल उपलब्धियों से भरे रहे हैं। त्यागी हॉस्टल से काफी संख्या में आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, जज, इंजीनियर, डॉक्टर आदि निकल चुके हैं। त्यागी हॉस्टल में बिजली, पानी, सफाई, भोजन आदि की अच्छी व्यवस्था है।

ओमकारा फिल्म की हो चुकी है शूटिंग विशाल भाराद्वाज की निर्देशित और अजय देवगन,करीना कपूर,सैफ़ अली खान,आदी अभिनीत फिल्म ‘ओमकारा की शूटिंग भी त्यागी हॉस्टल में हो चुकी है। फिल्म में त्यागी हॉस्टल देखकर मेरठ याद आ जाता है।

Tyagi Hostel meerut ……

Leave A Reply

Your email address will not be published.