Uttar Pradesh में मिले कप्पा वेरिएंट के दो मामले  
k

लखनऊ:  प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्थित किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में पिछले कुछ दिनों में 109 नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग की गई थी। इनमें से 107 नमूनों में कोविड-19 का डेल्टा प्लस वेरिएंट पाया गया। वहीं, दो नमूनों में कप्पा वेरिएंट की पुष्टि हुई।

बयान में कहा गया, 'दोनों ही वेरिएंट उत्तर प्रदेश के लिए नए नहीं हैं। राज्य में जीनोम सीक्वेंसिंग की सुविधा बढ़ाई जा रही है।' बता दें कि वर्तमान में राज्य में कोरोना वायरस की दैनिक सकारात्मकता दर (पॉजिटिविटी रेट) 0.04 फीसदी है।

वहीं, इससे पहले कोरोना वायरस के कप्पा वेरिएंट को लेकर राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने कहा था कि राज्य में इस वेरिएंट के मामले पाए गए हैं। उन्होंने कहा , 'चिंता करने की कोई वजह नहीं है। यह कोरोना वायरस का एक वेरिएंट है और इसका इलाज संभव है।'

हालांकि, जब उनसे पूछा गया कि ये वेरिएंट राज्य के किन जिलों में मिले हैं, उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी और कहा कि इससे लोगों के बीच भय पैदा होगा।

Share this story