पिथौरागढ़ में दर्दनाक हादसा: काली नदी में गिरी वैगनार कार, चार घायल, एक लापता, राहत व बचाव कार्य जारी

खबरे सुने

पिथौरागढ़ : नेपाल सीमा पर जौलजीबी -झूलाघाट मार्ग पर जौलजीबी से पांच किमी दूर हंसेश्वर मठ के पास एक बैगनआर कार सौ मीटर से अधिक गहरी खाई से होते हुए काली नदी में गिर गई। कार में सवार चार लोग घायल हो गए  और एक लापता है। एसएसबी और पुलिस खोज एवं बचाव कार्य में जुटी है। घायलों में दो की हालत गंभीर है।

घटना शुक्रवार सायं की है। एक कार जौलजीबी से पीपली को जा रही थी। तीतरी और हंसेश्वर मठ के बीच कार अनियंत्रित होकर सौ मीटर से अधिक गहरी खाई से होते हुए काली नदी में सूरजकुं ड में गिर गई। इस दौरान एक दो स्थानीय लोग इस स्थान पर मौजूद थे। उन्होंने कार को दुघर्टनाग्रस्त होतेे देखा और इसकी सूचना मठ के महंत परमानंद गिरी को दी। महंत ने तत्काल निकट की एसएसबी चौकी को सूचना दी। सूचना मिलते ही एसएसबी जवान खोज एवं बचाव कार्य के लिए पहुंच गए।

वाहन में सवार दो लोग खाई में छिटक कर बुरी तरह जख्मी हो गए तीन लोग कार के साथ सीधे काली नदी पर गिर गए। दो लोग नदी से घायल अवस्था में बाहर निकल आए। जिन्हें एसएसबी जवानों ने सड़क तक पहुंचाया। खाई में गिरे दो लोगों को भी मार्ग तक लाए। 108  चिकित्सा वाहन से उन्हें अस्पताल भेज दिया गया है। जिसमें दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों में अभी दो के ही नाम पता चल सके हैं। जिसमें एक बहादुर और एक कुंदन निवासी पीपली बताया जा रहा है। दो के नाम पता नहीं चल सके हैं। नदी के भीतर वाहन में सवार पांचवा व्यक्ति का पता नहीं चल सका है। लापता व्यक्ति का नाम संजू निवासी पीपली बताया जा रहा है। अभी तक नाम की पुष्टि नहीं हो सकी है। अस्कोट से पुलिस जवान भी मौके पर पहुंच चुके हैं। एसएसबी और पुलिस के जवान नदी में वाहन में फंसे व्यक्ति को निकालने का प्रयास कर रही है।

जिस स्थान पर वाहन नदी में गिरा है उसे सूरज कुंड नाम से जाना जाता है। यहां पर नदी का रू प भी विकराल है और गहरी ताल है। इसी स्थान पर नदी में पर्वों पर स्नान भी किया जाता है। वाहन नदी के किनारे पर ही है परंतु वाहन की केवल छत नजर आ रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.