Browsing Tag

हों तो नामुमकिन

इरादें मजबूत हों तो नामुमकिन कुछ भी नहीं……

नई दिल्ली निवासी सपना गुप्ता एक माँ एक पत्नी एक समाज सेविका होने के साथ साथ लेखिका एवं कवित्री भी है उन्होंने अब तक बहुत से लेख और किताबे लिखी है, बहुत से मंचों पर अपनी कविताएं कही] अपनी उत्कृष्ट सामाजिक सेवाओं के लिए जाने जानी वाली सपना SS…