Home राष्ट्रीय सुप्रीम कोर्ट ने डीडीसीए चुनावों की नई तारीखों का किया ऐलान

सुप्रीम कोर्ट ने डीडीसीए चुनावों की नई तारीखों का किया ऐलान

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के चुनावों की नई तारीखों को हरी झंडी दिखा दी है। अब डीडीसीए के चुनाव पांच से आठ नवंबर के बीच होंगे।

पहले यह चुनाव 17 से 20 अक्टूबर के बीच होने था लेकिन निर्वाचन अधिकारी नवीन बी चावला ने डीडीसीए के लोकपाल दीपक वर्मा की सलाह के बाद विवाद के चलते इन चुनावों को स्थगित कर दिया था।

चुनावों की प्रक्रिया वहीं से शुरू होगी जहां पर यह 10 अक्टूबर को रुकी थी। इस दिन प्रत्याशियों को दिन में तीन बजे तक अपने नाम वापस लेने थे लेकिन 2:30 बजे ही चुनाव स्थगित करने का नोटिस आ गया था।

अब जिन लोगों ने अपना नामांकन भरा है वो 17 अक्टूबर को 11 से एक बजे के बीच में अपना नाम वापस ले सकते हैं। इसी दिन प्रत्याशियों की अंतिम सूची शाम चार बजे तक जारी कर दी जाएगी। पांच से आठ नवंबर के बीच अध्यक्ष, कोषाध्यक्ष और चार निदेशकों के पद के चुनाव होने हैं।

“सुप्रीम कोर्ट ने एक तबगे के कोर्ट के बाहर सहमति बनाए जाने के बाद डीडीसीए चुनावों की नई तारीखों को मंजूरी दे दी है। प्रमोद जैन और मैंने सुप्रीम कोर्ट में जो स्पेशल लीव पीटिशन डाली थी वो वापस ले ली है।”

इस संबंध में अलग-अलग तबगो ने सुप्रीम कोर्ट में एफिडेविट दाखिल किए।

चुनावों की नई तारीखों का चयन करते हुए अधिकारियों ने नवरात्रि और दशहरा का ध्यान रखा। चार दिन चलने वाले इन चुनावों में वोट हर दिन सुबह 11 से शाम पांच बजे के बीच डाले जाएंगे। वोटों की गिनती नौ नवंबर को की जाएगी और इसी दिन परिणाम घोषित किए जाएंगे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और 14 साल तक डीडीसीए के अध्यक्ष रहे अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली का अध्यक्ष चुना जाना तय है। उनके नाम को लेकर सभी वर्गों में सर्वसम्मति है। बाकी पदों के लिए दो गुट सीधे तौर पर आमने-सामने हैं।

एक गुट मानचंदा, विनोद तिहारा और बंसल का है जबकि दूसरा गुट सी.के. खन्ना का है जिनकी पत्नी शशि खन्ना कोषाध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ रही हैं।