काठगोदाम में 80 हजार की स्मैक के साथ तस्कर गिरफ्तार

खबरे सुने

हल्द्वानी : पुलिस स्मैक तस्करी रोकने के भले ही लाख दावे कर ले लेकिन तस्करी कम होने का नाम नहीं ले रही है। रामपुर और बरेली से स्मैक शहर में बिकने के लिए पहुंच रही है। सोमवार को काठगोदाम पुलिस ने स्मैक तस्करी को आ रहे एक युवक को 80 हजार की स्मैक के साथ गिरफ्तार किया। उसे जेल भेजने की तैयारी की जा रही है।

एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी के निर्देश पर स्मैक तस्करों पर पुलिस की कार्रवाई जारी है। सोमवार को काठगोदाम थाना एसओ विमल मिश्रा के नेतृत्व में पुलिस टीम के द्वारा पनचक्की चौराहा दमुवाढुंगा पर वाहन चैकिंग की जा रही थी। इसी दौरान एक स्कूटी सवार पुलिस को देखकर वापस भागने लगा। शक होने पर पुलिस कर्मियों ने पीछा कर उसे पकड़ लिया। तलाशी लेने पर उसके पास 6.65 ग्राम स्मैक बरामद हुई। आरोपित ने अपना नाम विनीत अरोरा पुत्र चंद्र प्रकाश अरोरा निवासी वैलेजली लॉज निकट जजी कोर्ट हल्द्वानी बताया।

आरोपित ने बताया कि वह स्मैक रुद्रपुर से खरीदकर लाया है। रुद्रपुर के युवक को बरेली से स्मैक पहुंचाई जाती है। वह स्मैक का आदी हो चुका है। खुद नशा करने के बाद स्मैक को शहर के पार्कों व स्कूटी बच्चों को सप्लाई करता है। पर्वतीय इलाकों से आने वाले युवक भी उससे स्मैक खरीदकर ले जाते हैं। एसओ विमल मिश्रा ने बताया कि आरोपित को कोर्ट में पेश किया जाएगा। वह जिस युवक से स्मैक खरीदकर लाया उसकी भी तलाश की जा रही है। स्मैक तस्कर की सम्पति की भी जांच की जाएगी। इसकी रिपोर्ट बनाकर उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी। नशे के कारोबार से जोड़ी गई संपत्ति को जब्त करने की कार्रवाई की जाएगी। टीम में एसआई हरीश आर्य, कांस्टेबल एजाज, अहमद, रमेश चंद्र शामिल रहे।

लड़खड़ा रहे हैं नन्हें कदम

स्मैक के नशे में युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है। स्कूल का बैग उठाने वाले हाथों में स्मैक की पुड़िया आ गई है। इससे बच्चों का भविष्य खतरे में है। पुलिस अधिकारियों का मानना है कि स्मैक करने वालों में 15 से 25 साल तक के युवा सबसे अधिक हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.