Home उत्तर प्रदेश यूपी में एसआईटी करेगी जांच पल्स ऑक्सीमीटर, इन्फ्रारेड थर्मामीटर ज्यादा दाम पर...

यूपी में एसआईटी करेगी जांच पल्स ऑक्सीमीटर, इन्फ्रारेड थर्मामीटर ज्यादा दाम पर खरीदे जाने की

लखनऊ । कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच फ र्जीवाड़ा करने वालों पर योगी आदित्यनाथ ने कड़ी कार्रवाई की है। प्रदेश के गाजीपुर और सुलतानपुर के साथ अन्य जिलों में बाजार से अधिक कीमत पर पल्स ऑक्सीमीटर व इन्फ्रारेड थर्मामीटर खरीदने की जांच एसआइटी करेगी। मुख्यमंत्री ने इस पूरे मामले में एसआइटी का गठन किया है। मुख्यमंत्री ने सुल्तानपुर, बिजनौर और गाजीपुर सहित कुछ अन्य जनपदों की ग्राम पंचायतों में पल्स ऑक्सीमीटर तथा इन्फ्रारेड थर्मामीटर की बाजार मूल्य से अधिक दर पर खरीदने के प्रकरण को काफी गम्भीरता से लिया है। भ्रष्टाचार करने वालों की जांच करने के लिए स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीम (एसआइटी) का गठन किया गया है। शासन ने अपर मुख्य सचिव राजस्व की अध्यक्षता में एसआइटी गठित कर दी है। एसआइटी को दस दिन में घोटाले की जांच करने का निर्देश दिया गया है।

सरकार ने अपर मुख्य सचिव राजस्व विभाग रेणुका कुमार की अध्यक्षता में एसआईटी गठित की है। इसमें सचिव चिकित्सा शिक्षा विभाग अमित गुप्ता तथा सचिव नगर विकास एवं एमडी जल निगम विकास गोठलवाल को सदस्य नामित किया गया है। एसआईटी पूरे प्रकरण की जांच कर 10 दिन में अपनी रिपोर्ट सरकार को देगी।

ज्ञात हो कि शासन द्वारा कोविड-19 की रोकथाम के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में पल्स ऑक्सीमीटर, इन्फ्रारेड थर्मामीटर तथा सेनेटाइजर का एक सेट राज्य वित्त आयोग की धनराशि से खरीदे जाने के निर्देश (संख्या 1596/33-3-2020-114/2012) 23 जून, 2020 के माध्यम से दिए गए थे। जनपद सुल्तानपुर और गाजीपुर के साथ कुछ अन्य जनपदों में कतिपय ग्राम पंचायतों में बाजार मूल्य से अधिक इन उपकरणों को खरीदे जाने की जानकारी सरकार को मिली थी।