राजधानी में नहीं सुरक्षित बहन बेटियाँ, 10 माह और 6 साल की बच्ची से हैवानियत, |

खबरे सुने

लखनऊ एक बार फिर राजधानी लखनऊ में मानवता हुई तार तार लखनऊ के सआदतगंज इलाके में 10 महीने की दूधमुंही और 6 साल की मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म की वारदात हुई। वारदात के बाद दूधमुंही बच्ची की हालत काफी खराब है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।वहीं सूचना मिलने पर सक्रिय हुई पुलिस ने दोनों ही वारदात के आरोपियों को दबोच लिया है।

प्रभारी निरीक्षक सआदतगंज बृजेश कुमार यादव के मुताबिक मूलरूप से पटना का रहने वाला परिवार सआदतगंज इलाके के अंबरगंज में किराए पर रहता है। वह चूड़ी का कारोबार करता है। रविवार रात को परिवार की 10 महीने की बच्ची की मां खाना बना रही थी। इसी बीच बच्ची के रोने की आवाज आई। परिवारीजनों का आरोप है कि बच्ची का रोना सुनकर पड़ोस में रहने वाला सनी कुमार पहुंचा। बच्ची को चुप कराने के बहाने से गोद में लिया। इसके बाद पास में पड़े विस्तर पर लिटाकर सुलाने लगा। इसी दौरान उसके साथ गलत हरकत की। जिस पर बच्ची नहीं चुप हुई। उसे खिलाते हुए घर के बाहर लेकर गया लेकिन फिर भी नहीं चुप हुआ।

इस पर मां बाहर निकली। बच्ची को अपने गोद में लिया। उसने मासूम के अंडरगारमेंट को देखा तो वहां ने रक्तस्राव हो रहा था। इस पर सनी से पूछताछ की तो वह टालमटोल करने लगा। मौका देखकर वह भागने लगे। मासूम की मां ने शोर मचाया तो उसे स्थानीय लोगों ने दबोच लिया। उसकी जमकर पिटाई की। इसके बाद पुलिस को सौंप दिया। बच्ची की हालत गंभीर देख पुलिस ने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। प्रभारी निरीक्षक बृजेश कुमार यादव के मुताबिक पकड़ा गया आरोपी मूलरुप से बिहार के गया के निमचक बथानी स्थित मई का रहने वाला है। वह लखनऊ में सआदतगंज के गुलाबनगर निवासी मो. अहमद हलवाई के घर में किराए पर रहता है। सनी कंगन बनाने व नक्काशी करने के काम में मजदूरी करता है।
चूड़ी का सामान देने गये कारीगर ने की मासूम से दुष्कर्म वहीं, 12 नवंबर की सुबह बीबीगंज में 6 साल की बच्ची घर के बाहर खेल रही थी। इस बीच पड़ोस में रहने वाला शमशाद बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने अपने साथ ले गया। घर के पीछे लेकर गया। जहां उसकेसाथ दुष्कर्म किया। विरोध करने पर बच्ची को पीटा। इसके बाद बच्ची को धमकाते हुए भाग निकला। बदहवास मासूम अपने घर पहुंची और परिवारीजनों को वारदात के बारे में जानकारी दी। बच्ची के घर वालों ने थाने पहुंचकर आरोपित के खिलाफ तहरीर दी।

घटना से बच्ची के घर वालों में आक्रोश है। प्रभारी निरीक्षक सआदतगंज ब्रजेश कुमार यादव के आरोपी शमशाद नालंदा बिहार के खुदागंज पनहर का रहने वाला है। लखनऊ के सआदतगंज में रहकर चूड़ी बनाने का काम करता है। वह आसपास की महिलाओं को चूड़ियों पर चमकीला लगाने व पेंटिंग का काम देता है। जिस मासूम के साथ उसने दुष्कर्म किया था। वह भी उसकी कारीगर की बेटी है।

वारदात के दिन शमशाद चूड़ी व सामान देने गया था । वापस आते समय उसने मासूम को टॉफी दिलाने का बहाना बनाकर साथ लेकर निकला। घर के पीछे पहुंचते ही वारदात को अंजाम दे दिया। पीड़िता के परिवारीजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया है। जहां से कोर्ट ने जेल भेज दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.