Home उत्तर प्रदेश प्रतापगढ़ में जहरीली शराब पीने से सगे भाइयों समेत सात की मौत,...

प्रतापगढ़ में जहरीली शराब पीने से सगे भाइयों समेत सात की मौत, SHO सस्पेंड महीने में दूसरी घटना से कोहराम

प्रयागराज। यूपी में प्रतापगढ़ जिले के उदयपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार रात से बुधवार देर शाम तक शराब पीने के बाद दो सगे भाइयों समेत सात लोगों की मौत हो गई। यह साफ नहीं हो सका है कि शराब मिलावटी थी अथवा जहरीली। इस मामले में एसओ उदयपुर को लापरवाह मानते हुए निलंबित कर दिया गया है। प्रयागराज से पहुंची आबकारी विभाग की टीम ने भी जांच की। एडीजी जोन भी शाम को प्रतापगढ़ पहुंच गए।

दावत में बांटी गई थी शराब

कटरिया गांव में ग्राम प्रधान चुनाव लडऩे की तैयारी कर रहे दावेदार के घर मंगलवार रात दावत थी। उसमें शराब भी बांटी गई। रामखेलावन कोरी के बेटे दिलीप कोरी (50) प्रदीप कोरी (35) व उसके मामा सिद्धनाथ (60) निवासी रांकी थाना उदयपुर के अलावा कटरिया गांव निवासी रामपाल सरोज (45), धर्मेंद्र सिंह (36), राममिलन कोरी (35) पुत्र बिंदेसी कोरी, ओमप्रकाश (40) व उसके पिता शिवचरन (62) और आहार बीहर थाना उदयपुर निवासी राजकुमार प्रजापति (45) दावत में शामिल थे। शराब पीने के बाद रात साढ़े नौ बजे सभी की तबीयत बिगडऩे लगी। ग्रामीण उन्हें सीएचसी सांगीपुर ले गए। यहां इलाज के दौरान रामपाल सरोज ने दम तोड़ दिया। रायबरेली जिला अस्पताल ले जाए गए दिलीप कोरी और प्रदीप कोरी को भी चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। अमेठी के मुंशीगंज अस्पताल में भर्ती सिद्धनाथ की भी मौत हो गई। अमेठी जिला अस्पताल में भर्ती राजकुमार ने बुधवार सुबह दम तोड़ दिया। वहीं असैदापुर गौरीगंज जिला अस्पताल में भर्ती राममिलन कोरी की भी बुधवार रात करीब आठ बजे मौत हो गई। धर्मेंद्र सिंह को उसके स्वजन इलाज के लिए लखनऊ ले गए हैं। ओमप्रकाश का जिला अस्पताल और उसके पिता शिवचरन का सांगीपुर सीएचसी में इलाज चल रहा है। उनकी हालत स्थिर है। आहर बीहर गांव के किसन सरोज की भी मौत हुई है। उसकी अंत्येष्टि सुबह कर दी गई।

शराब पीने के बाद बिगड़ने लगी थी तबीयत

शराब पीने के बाद रात साढ़े नौ बजे सभी की तबीयत बिगडऩे लगी। ग्रामीण उन्हें सीएचसी सांगीपुर ले गए। यहां इलाज के दौरान रामपाल सरोज ने दम तोड़ दिया। रायबरेली जिला अस्पताल ले जाए गए दिलीप कोरी और प्रदीप कोरी को भी चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। अमेठी के मुंशीगंज अस्पताल में भर्ती सिद्धनाथ की भी मौत हो गई। अमेठी जिला अस्पताल में भर्ती राजकुमार ने बुधवार सुबह दम तोड़ दिया। उसकी अंत्येष्टि भी कर दी गई। धर्मेंद्र सिंह को उसके स्वजन इलाज के लिए लखनऊ ले गए हैैं। ओमप्रकाश का जिला अस्पताल और उसके पिता शिवचरन का सांगीपुर सीएचसी में इलाज चल रहा है। उनकी हालत स्थिर है। मंगलवार रात ही आहर बीहर गांव के किशन सरोज की भी मौत संदिग्ध दशा में हो गई। उसकी अंत्येष्टि बुधवार सुबह कर दी गई।

पुलिस प्रशासन में मची खलबली

महज कुछ घंटों में सात मौतों से पुलिस व प्रशासन में खलबली मच गई। बुधवार को एडीजी जोन प्रयागराज  प्रेमप्रकाश, डीएम डॉ. नितिन बंसल, एसपी आकाश तोमर एवं एडीएम शत्रोहन वैश्य गांव पहुंचे। एसपी ने एसओ उदयपुर राकेश कुमार प्रजापति को निलंबित कर दिया। डीएम ने कटरिया गांव निवासी दो सगे भाइयों व उसके मामा की मौत शराब पीने से मानी है जबकि सात लोगों की मौत हो चुकी है।