पेपर्स लीक में पाकिस्तान और भारत समेत दुनिया के कई अमीर और सबसे शक्तिशाली लोगों के गुप्त सौदे और छिपाई गई संपत्ति खुलासा

खबरे सुने

(ICIJ) ने “पेंडोरा पेपर्स” जारी किया है। इसमें दुनिया भर के हाई-प्रोफाइल व्यक्तियों द्वारा रखे गए वित्तीय रहस्यों का खुलासा हुआ है। इस पेपर में पाकिस्तान के वित्त मंत्री शौकत तारिन सहित प्रधानमंत्री इमरान खान के कई करीबियों के भी नाम हैं।आपको बता दें कि इस पेपर्स लीक में भारत समेत दुनिया के कई अमीर और सबसे शक्तिशाली लोगों के गुप्त सौदे और छिपाई गई संपत्ति के बारे में खुलासा होने वाला है। पेंडोरा पेपर्स लीक में दुबई, मोनाको, स्विटजरलैंड और केमैन आइलैंड्स जैसे देशों में दुनियाभर की कई विदेशी कंपनियों और ट्रस्टों के पीछे के लोगों का पता लगाने के लिए एक करोड़ से अधिक फाइलें की जांच की गई है।

इस पेपर में सीनेटर फैसल वावड़ा, पीएमएल-क्यू नेता चौधरी मूनिस इलाही, इशाक डार के बेटे, पीपीपी के शारजील मेमन, उद्योग और उत्पादन मंत्री खुसरो बख्तियार का परिवार, पीटीआई नेता अब्दुल अलीम खान, एक्सैक्ट के सीईओ शोएब शेख के नाम हैं। जियो न्यूज ने बताया कि जांच में कुल 700 से अधिक पाकिस्तानियों का नाम लिया गया है। लोगों के विदेशी कंपनियों से लेन-देन के संबंध थे। इस मामले में कुछ सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारियों, व्यवसायियों और मीडिया कंपनी के मालिकों के नाम भी सामने आए हैं।
आपको बता दें कि पाकिस्तान के खोजी पत्रकार उमर चीमा और द न्यूज इंटरनेशनल के फखर दुर्रानी इस शोध का हिस्सा थे।
रिपोर्ट के अनुसार, लीक हुए दस्तावेजों से पता चला है कि प्रधानमंत्री इमरान के आंतरिक सर्कल के “प्रमुख सदस्य”, जिनमें कैबिनेट मंत्री, उनके परिवार और प्रमुख वित्तीय समर्थक शामिल हैं, “गुप्त रूप से कई कंपनियों और ट्रस्टों के स्वामित्व में हैं, जिनके पास लाखों डॉलर की छिपी हुई संपत्ति है”। हालांकि इन दस्तावेजों में इस बात का कोई खुलासा नहीं हुआ है कि इमरान खान के पास भी ऐसी कोई संपत्ति है या नहीं।आईसीआईजे ने कहा, “रिकॉर्ड में पीटीआई के शीर्ष दानकर्ता आरिफ नकवी के लेनदेन का भी पता चलता है, जो संयुक्त राज्य में धोखाधड़ी के आरोपों का सामना कर रहा है।”

इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स (ICIJ) की ओर से की तैयार किए गए दस्तावेज में 100 धनकुबेरों के अलावा, रूस, इंडिया, पाकिस्तान, यूके, मैक्सिको के सेलिब्रिटियों के नाम पर कंपनियां मिली हैं। पेंडोरा पेपर्स, किंग ऑफ जॉर्डन, यूक्रेन, केन्या के राष्ट्रपतियों, चेक रिपब्लिक के प्रधानमंत्री और पूर्व ब्रिटिश प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर से संबंधित जानकारी को उजागर करता है। रिपोर्ट के मुताबिक अगले एक दो दिन में पेंडोर पेपर्स लीक की विस्तृत जानकारी सामने आने की उम्मीद है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.