नई दिल्ली।

दिल्ली के ऐम्स में भर्ती बागपत निवासी विपुल जैन को लगातार ब्लीडिंग होने के कारण उनकी हालत सीरियस बनी हुई थी, उन्हें तत्काल ब्लड की आवश्यकता थी। विपुल जैन के परिजनों ने
संत निरंकारी मंडल 54 ए मेरठ ज़ोन के मीडिया प्रभारी सुभाष पांचाल से सम्पर्क किया। सुभाष पांचाल उस समय आगरा में थे। उन्होंने स्थिति की गंभीरता को भांपते हुवे 54 ए के इंचार्ज कुँवर पाल सिंह को मामले से अवगत कराया। कुंवरपाल सिंह ने दिल्ली के निरंकारी चौक स्थित मेडिकल हेल्थ एंड सोशल वेलफेयर विभाग के श्रीनाथ जी से संपर्क किया। मेडिकल हेल्थ एंड सोशल वेलफेयर विभाग ने एम्स ब्लड बैंक के डायरेक्टर को एक लेटर जारी कर विपुल जैन को दो यूनिट ब्लड उपलब्ध कराने के लिए आग्रह किया। सुभाष पांचाल लेटर लेकर ऐम्स पहुंचे और जरूरतमंद को ब्लड उपलब्ध कराया। सुभाष पांचाल ने कहा कि रक्तदान एक सबसे बड़ा दान है। यह दान इंसान का जीवन बचाने में काम आता है और ऐसे आयोजन निरंकारी मिशन लगातार करता चला आ रहा है। निरंकारी मिशन समाज कल्याण के अनेकों कार्य सफाई अभियान से लेकर ब्लड डोनेशन कैंप, चिकित्सा कैंप, आई कैंप व बाढ़ ग्रस्त इलाकों में अपनी सेवाएं देने में अग्रसर है। निरंकारी सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज का यही पैगाम है की खून नालियों में ना बह कर इंसान की नसों में बहे तो इस जीवन का कुछ लाभ प्राप्त हो सकता है। विपुल जैन के परिजनों ने सुभाष पांचाल, कुंवरपाल सिंह, श्रीनाथ जी, डॉक्टर नरेश अरोड़ा सहित समस्त संत निरंकारी मंडल का आभार व्यक्त किया।

"
""
""
""
""
"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *