Home उत्तर प्रदेश राज्‍य सरकार पर समाजवादी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव ने वाराणसी में साधा...

राज्‍य सरकार पर समाजवादी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव ने वाराणसी में साधा निशाना

वाराणसी। तीन दिवसीय पूर्वांचल दौरे के तीसरे दिन सर्किट हाउस में समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पत्रकारों को संबोधित किया। वाराणसी, जौनपुर और मीरजापुर जिले में तीन दिनों तक रहकर कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों और जनता से संवाद कर चुनावी माहौल का भी उन्‍होंने हाल अहवाल लिया।

पूर्वांचल दौरे के तीसरे दिन शनिवार को सीर गोवर्धन में संत रविदास जयंती के मौके पर गुरु को नमन करने के बाद वह सर्किट हाउस में प्रेसवार्ता करने पहुंचे। प्रेस वार्ता के दौरान उन्‍होंने महंगाई और कानून व्‍यवस्‍था आदि के मुद्दे को लेकर राज्‍य सरकार को कठघरे में खड़ा किया। इस दौरान महंगाई को लेकर गैस व पेट्रो कीमतों में बढोतरी पर सवाल खड़ा करते हुए इसे सरकार की नाकामी बताया।

कचहरी स्थित सर्किट हाउस में शनिवार को मीडियाकर्मियों से मुखातिब उन्होंने कहा कि भाजपा की गलत नीतियों के कारण पेट्रोल करीब 100 रुपये लीटर के पहुंच रहा है। वहीं जिस उज्ज्वला अभियान के तहत मुफ्त गैस सिलेंडर बांट कर सत्ता में आई। आज वह गैस सिलेंडर नहीं ले पा रहे हैं। पेट्रोल व गैस का मुनाफा कहा जा रहा है। सरकार को यह भी बताना चाहिए। भाजपा पर सीधा हमला करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा झूठे वादे पर सत्ता में आई है। भाजपा जाति व धर्म के नाम पर नफरत फैला रही है। जबकि समाजवादी पार्टी सेकुलर व सोशलिस्ट है। अपने देश की संस्कृति सेकुलरिज्म रही है। भाजपा केंद्र सरकार ने पांच ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी का सपना दिखाया था। वहीं उत्तर प्रदेश की सरकार ने 1.10 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी की बात कही थी। इस बार केंद्रीय व राज्य बजट में इसकी चर्चा तक नहीं की गई। नोटबंदी व बगैर किसी तैयारी के जीएसटी लागू किया गया। व्यापारियों को सहूलियत के स्थान पर मुसीबत बन गई है। व्यापारी निराशा व दु:खी है।

किसानों के लिए लाए गए तीन कानून ‘डेथ वारंट’ की संज्ञा देते हुए कहा कि सवाल खड़ा किया कि जो कानून को एक साल के लिए स्थगित कर दिया गया है। वह एक साल बाद अच्छा कैसे हो सकता है। कहा कि मेरी सरकार ने एक्सप्रेस-वे के किनारे लखनऊ, आजमगढ़, गाजीपुर सहित तमाम जिलों में मंडी खोलने का प्रस्ताव रखा था। वहीं भाजपा सरकार में पहले से चल रहीं मंडियां बंद हो गई है। कहा कि जब मंडी ही नहीं रहेगी तो किसानों को एमएसपी कहां से मिलेगी। कहा कि मिस्ड कॉल के माध्यम से भाजपा सदस्यता अभियान चला सकती है लेकिन किसानों को एमएसपी का लाभ दिलाने के लिए मिस्ड काल की सुविधा नहीं दे सकती है। उन्होंने कहा भाजपा धर्म के नाम पर लोगों को धोखा दे रही है जो मां गंगा के इतना बड़ा धोखा किया वह जनता के साथ क्या देगी। गंगा आज और प्रदूषित हो गई है। कहा कि गोमती रिवर फ्रंट के तर्ज पर गंगा को प्रदूषण मुक्त बनाया जा सकता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि विधान सभा में बगैर किसी की बात सुने मनमाने तरीके के कानून लाए जा रहे हैं। यही नहीं किसानों के आंदोलनों को कुचला जा रहा है। सूबे में करीब दस हजार सपा कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुकदमें लादे गए। उन पर लाठियां चलवाई गईं। प्रदेश सरकार एक कंपनी की तरह कार्य कर रही है। कहा कि मुख्यमंत्री को जू व लायन सफारी पार्क का फर्क तक नहीं मालूम है। बनारस के विकास पर बोले कि सपा शासन ने शुरू किया गया वरूणा कारिडोर का काम भाजपा ने जानबूझ कर अटका दिया। उन्होंने फोर लेन, सिक्स लेन, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे सहित अन्य एक्सप्रेस-वे की योजना अपने शासन काल में बनाने का दावा किया। कहा कि भाजपा तो एक्सप्रेस-वे को बनारस तक नहीं जोड़ सकी। कहा कि डा. भीम राव आंबेडकर व डा. राम मनोहर लोहिया के सिद्धांतों पर पार्टी काम कर रही है। कहा कि जब तक भाजपा रहेगी तक तक नौजवानों को रोजगार नहीं मिलेगा। कहा कि अब मोदी का जादू नहीं चलने वाला है। सूबे में सपा की सरकार आनी तय है।