Home उत्तर प्रदेश पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाट समाज मे पैठ बना रही चन्द्रशेखर उर्फ...

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाट समाज मे पैठ बना रही चन्द्रशेखर उर्फ रावण की राजनैतिक पार्टी

 

राजसत्ता पोस्ट

Breaking news

 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाट समाज मे पैठ बना रही चन्द्रशेखर उर्फ रावण की राजनैतिक पार्टी

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चन्द्रशेखर उर्फ रावण की राजनैतिक पार्टी का बढ़ता कद

दिल्ली-भीम आर्मी मुखिया चंद्रशेखर उर्फ रावण का फैलाव धीरे धीरे दलित समाज से निकलकर अन्य समाज में भी बढ़ता जा रहा है।
भीम आर्मी के बाद उनके द्वारा बनाई गई आजाद समाज पार्टी पश्चिम में अपनी जड़ें मजबूत करने में लगी है ।
तोड़फोड़, आगजनी, नफरत, वैमनस्य फैलाने के आरोपो से चंद्रशेखर का नाता रहा है।
मोदी विरोध, मुस्लिम प्रेम के चलते उन्हें प्रियंका गांधी से लेकर तमाम दिग्गज सेकुलर नेताओ का समर्थन मिलता रहा है।
सियासी गुणा भाग के खेल में जिला पंचायत चुनाव को लेकर प्रत्येक गांव में दलित वोट को ध्यान में रखकर दूसरी बिरादरी के लोग चंद्रशेखर उर्फ रावण की परिक्रमा करने लगे हैं और चंद्रशेखर की चरण वंदना कर उसका आशीर्वाद प्राप्त करने की होड़ सी लग गई है।
ताकि निकट भविष्य में होने वाले जिला पंचायत चुनाव में उनकी वैतरणी पार हो सके।
इस कड़ी में रियल स्टेट ए टू जेड के चेयरमैन अनिल बालियान, भारतीय किसान यूनियन के पूर्व कद्दावर नेता स्वर्गीय चंद्रपाल फौजी के पुत्र मोहित बालियान, सरदार वीएम सिंह के साथ साए की तरह रहने वाले किसान नेता अदित चौधरी के साथ मुजफ्फरनगर में जाट मुस्लिम गठजोड़ और 2013 के दंगों में समझौते की अहम भूमिका निभाने वाले कारी हसन बालियान समेत कई लोग शामिल है।

इसी कड़ी में राष्ट्रीय जाट संरक्षण समिति के विपिन सिंह बालियान का नाम भी जुड़ गया है।
विपिन अपना जातिवादी संगठन चला रहे हैं परंतु उन्होंने भी चंद्रशेखर रावण से मुलाकात कर उसकी पार्टी की सदस्यता ली है इस तरह की खबर दिल्ली के समाचार पत्रों में आ रही है।
विपिन बालियान इससे पहले समाजवादी पार्टी के नजदीक रहे हैं। वहीं 2014 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के साथ थे। बाद में राष्ट्रीय लोक दल में शामिल होकर उन्होंने 2019 का लोकसभा चुनाव चौधरी अजीत सिंह को लडवाया। वह आम आदमी पार्टी में भी शामिल रहे और किसान प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश प्रवक्ता भी बने।

फिलहाल वह चंद्र शेखर के साथ एक नए गठजोड़ की ओर बढ़ रहे हैं।
चंद्रशेखर आजाद का बढ़ता फैलाव मायावती के लिए चिंता का विषय बन रहा है।
युवा जाट समुदाय को आजाद समाज पार्टी में जोड़ने का काम पूर्व बसपा नेता और फिलहाल चंद्रशेखर के करीबी सत्यपाल चौधरी कर रहे है।
पश्चमी उत्तर प्रदेश में एकाएक आजाद समाज पार्टी दम दिखाती नजर आ रही है।