Home धार्मिक आज का पंचांग/राशिफल

आज का पंचांग/राशिफल

 

राजसत्ता पोस्ट

 

. *।। 🕉 ।।*
🚩🌞 *सुप्रभातम्* 🌞🚩
📜««« *आज का पंचांग* »»»📜
कलियुगाब्द…………………….5122
विक्रम संवत्……………………2077
शक संवत्………………………1942
मास……………………………भाद्रपद
पक्ष………………………………कृष्ण
तिथी……………………………दशमी
दोप 01.57 पर्यंत पश्चात एकादशी
रवि………………………..दक्षिणायन
सूर्योदय………..प्रातः 06.03.40 पर
सूर्यास्त………..संध्या 06.59.49 पर
सूर्य राशि………………………..कर्क
चन्द्र राशि………………………वृषभ
गुरु राशि…………………………धनु
नक्षत्र………………………..मृगशीर्ष
दुसरे दिन प्रातः 06.33 पर्यंत आर्द्रा
योग………………………….व्याघात
प्रातः 09.39 पर्यंत पश्चात हर्षण
करण…………………………..विष्टि
दोप 01.57 पर्यंत पश्चात बव
ऋतु…………………………….वर्षा
*दिन……………………..शुक्रवार*

*आंग्ल मतानुसार :-*
*१४ अगस्त सन २०२० ईस्वी ।*

☸ शुभ अंक…………………5
🔯 शुभ रंग……………आसमानी

👁‍🗨 *अभिजीत मुहूर्त :-*
प्रातः 12.05 से 12.56 तक ।

👁‍🗨 *राहुकाल (अशुभ) :-*
प्रात: 10.55 से 12.31 तक ।

🚦 *दिशाशूल :-*
पश्चिमदिशा – यदि आवश्यक हो तो जौ का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें।

🌞 *उदय लग्न मुहूर्त -*
*कर्क*
04:00:43 06:16:28
*सिंह*
06:16:28 08:28:42
*कन्या*
08:28:42 10:39:22
*तुला*
10:39:22 12:53:59
*वृश्चिक*
12:53:59 15:10:09
*धनु*
15:10:09 17:15:48
*मकर*
17:15:48 19:02:56
*कुम्भ*
19:02:56 20:36:30
*मीन*
20:36:30 22:07:42
*मेष*
22:07:42 23:48:24
*वृषभ*
23:48:24 25:47:02
*मिथुन*
25:47:02 28:00:43

✡ *चौघडिया :-*
प्रात: 07.42 से 09.18 तक लाभ
प्रात: 09.18 से 10.54 तक अमृत
दोप. 12.30 से 02.06 तक शुभ
सायं 05.18 से 06.54 तक चंचल
रात्रि 09.42 से 11.06 तक लाभ ।

📿 *आज का मंत्र :-*
॥ ॐ ज्येष्ठराजाय नम: ॥

📢 *संस्कृत सुभाषितानि -*
नात्मच्छन्देन भूतानां जीवितं मरणं तथा ।
नाप्यकाले सुख प्राप्यं दुःखं कापि यदूत्तम ॥
अर्थात :-
हे यदुश्रेष्ठ ! प्राणी को जैसे अपनी इच्छा अनुसार जन्म और मरण प्राप्त नहीं होते वैसे सुख-दुःख भी अकाल नहीं प्राप्त होते ।

🍃 *आरोग्यं सलाह :-*
*अनार (दाड़िम) के औषधीय अनुप्रयोग :-*
1. नाक से रक्त गिरना :
खट्टे मिठे अनारदाने का रस 10 तोले में मिश्री 2 तोले मिलाकर रोज दोपहर को पिलाते रहने से गर्मी के दिनों में नाक का रक्तस्त्राव बंद हो जाता है |

2. भोजन में अरुचि :
बुखार के बाद की अरुचि हेतु अनार का रस 1 – 1 तोले मुहं में रख कर चलाकर धीरे धीरे दिन में 8 से 10 बार लेने से मुहं का स्वाद सुधर जाता है, अरुचि समाप्त होती है |

3. सुखी खांसी :
छोटे बच्चों में सुखी खांसी होने पर अनार के फूल या फल की छाल का चूर्ण शहद में मिलकर चटावे | बच्चो के अतिरिक्त सभी बड़े अनार के छिलके के टुकड़े मुहं में रखकर रस चूसते रहे |

⚜ *आज का राशिफल* ⚜

🐏 *राशि फलादेश मेष :-*
*(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)*
संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रसन्नता रहेगी। खर्चों में वृद्धि से चिंता होगी। संतान के रोजगार की समस्या का समाधान संभव है। व्यापार-व्यवसाय लाभप्रद रहेगा। कश्मकश दूर होगी। स्वजनों से भेंट होगी।

🐂 *राशि फलादेश वृष :-*
*(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)*
प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। राजकीय बाधा दूर होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। शत्रुभय रहेगा। लाभ होगा। पिछले कार्यों को टालना चाहिए क्योंकि उसमें असफलता का योग है। अनावश्यक विवाद होगा। व्यावसायिक योजनाएँ क्रियान्वित नहीं हो पाएँगी।

👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-*
*(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)*
वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। पुराना रोग उभर सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। व्यापार के विस्तार हेतु किए गए प्रयास सफल होंगे। संतान की ओर से अच्छे समाचार मिलेंगे। दूसरों के कार्यों में हस्तक्षेप नहीं करें। परिवार की चिंता रहेगी।

🦀 *राशि फलादेश कर्क :-*
*(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)*
धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। वरिष्ठजनों का सहयोग मिलेगा। कोर्ट व कचहरी के काम बनेंगे। कार्यसिद्धि होगी। आय-व्यय में संतुलन रहेगा। क्रोध पर संयम आवश्यक है। व्यापार में नए अनुबंध लाभकारी रहेंगे। धर्म में रुचि बढ़ेगी। नई योजना से लाभ होगा।

🦁 *राशि फलादेश सिंह :-*
*(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)*
योजना फलीभूत होगी। नए अनुबंध होंगे। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। निवेश शुभ रहेगा। जल्दबाजी व भागदौड़ से काम करने की प्रवृत्ति पर रोक लगाएँ। अच्छे मित्र से भेंट होगी। पराक्रम की वृद्धि होगी। समाज-परिवार में आदर मिलेगा।

🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-*
*(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)*
रुका हुआ धन प्राप्त होगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। विवाद न करें। व्यवसाय ठीक चलेगा। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। पूँजी निवेश बढ़ेगा। साहित्यिक रुचि बढ़ेगी। आर्थिक योग शुभ हैं। यात्रा से व्यापारिक लाभ हो सकता है। सुसंगति से लाभ होगा।

⚖ *राशि फलादेश तुला :-*
*(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)*
फालतू खर्च होगा। स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। कुसंगति से बचें। दूसरों पर भरोसा न करें। धैर्य रखें। पारिवारिक जीवन अच्छा रहेगा। रुका पैसा मिलेगा। शत्रु आपकी छवि को धूमिल करने का प्रयास करेंगे। अतः सावधान रहें। व्यापार में सफलता मिलेगी।

🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-*
*(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)*
राजकीय सहयोग मिलेगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अप्रत्याशित लाभ होगा। जोखिम बिलकुल न लें। धर्म-कर्म में रुचि बढ़ेगी। व्यापार व नौकरी में हितकारकों की पूर्ण कृपा रहेगी। गृह उपयोगी वस्तुएँ क्रय करेंगे। नए संबंधों के प्रति सतर्क रहें।

🏹 *राशि फलादेश धनु :-*
*(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)*
उत्साहवर्द्धक सूचना मिलेगी। स्वाभिमान बढ़ेगा। पुराने मित्र-संबंधी मिलेंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। कार्य एवं व्यवसाय के क्षेत्र में विभिन्न बाधाओं से मन अशांत रहेगा। विवादों से दूर रहना चाहिए। आर्थिक तंगी रहेगी। पिछले कार्यों को टालें। पारिवारिक तनाव से मन परेशान रहेगा। व्यापार में हानि हो सकती है।

🐊 *राशि फलादेश मकर :-*
*(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)*
मेहनत का फल मिलेगा। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। यात्रा सफल रहेगी। धनलाभ होगा। प्रसन्नता बनी रहेगी। वाहन सुख मिलेगा। संपत्ति के लेन-देन में सावधानी बरतें। परिवार में सहयोग का वातावरण रहेगा। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। संतान पर ध्यान दें।

🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-*
*(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)*
स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। थकान रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। पराक्रम बढ़ेगा। जीवनसाथी से आर्थिक मतभेद हो सकते हैं। कामकाज में आशानुरूप स्थिति बनेगी। संतान के व्यवहार पर नजर रखें। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा।

🐋 *राशि फलादेश मीन :-*
*(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)*
स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। लेन-देन में सावधानी रखें। आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी। आपके व्यवहार एवं कार्यकुशलता से अधिकारी वर्ग से लाभ होगा। आपसी विचार-विमर्श लाभप्रद रहेगा। बुरी खबर मिल सकती है। वाणी पर नियंत्रण रखें।

*🚩 🎪 ‼️ 🕉 महालक्ष्म्यै नमः ‼️ 🎪 🚩*

*☯ आज का दिन सभी के लिए मंगलमय हो ☯*

*‼️ शुभम भवतु ‼️*

🚩 🇮🇳 ‼️ *भारत माता की जय* ‼️ 🇮🇳 🚩