Home उत्तर प्रदेश रालोद पर दर्ज मुकदमों को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में गुस्सा बढ़ता ही...

रालोद पर दर्ज मुकदमों को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है-रालोद जिलाध्यक्ष

 

राजसत्ता पोस्ट

मुज़फ्फरनगर मंगलवार 29/9/2020

राष्ट्रीय लोकदल पर दर्ज मुकदमों को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है आज राष्ट्रीय लोक दल के युवा जिलाध्यक्ष विदित मलिक के निवास ग्राम काजीखेड़ा पर क्षेत्र के सैकड़ों मौजिज ग्रामीणों की महत्वपूर्ण पंचायत हुई?
पंचायत में वक्ताओं ने प्रशासन के तानाशाही रवैया की जमकर आलोचना की और इसे किसान मजदूर की आवाज दबाने वाला कदम बताया! पंचायत में बोलते हुए पार्टी जिला अध्यक्ष अजीत राठी ने कहा कि जहां तक बात मुकदमों की है तो इनसे हम डरने वाले नहीं हैं और ना ही हम पीछे हटने वाले हैं लेकिन जिस तरीके से प्रशासन ने पिछले 15 दिनों में तीन मुकदमे रालोद नेता और पदाधिकारियों पर दर्ज किए हैं वह सरासर एकपक्षीय हैं और फर्जी हैं!
पंचायत में राष्ट्रीय सचिव राजपाल बालियान(पूर्व विधायक) ने कहा कि
प्रशासन को गलतफहमी है कि वह इस तरह किसान मजदूरों की आवाज राष्ट्रीय लोकदल को डरा लेगी लेकिन शायद वह जिले के इतिहास से वाकिफ नहीं है रालोद ने जब जब चाहा प्रशासन को बैकफुट पर जाना पड़ा है हम जनपद में शांति चाहते हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि कोई अधिकारी अपनी सनक में जनपद के रालोद नेताओं और पदाधिकारियों को फर्जी मुकदमों में फंसा ले और हम चुप बैठ जाएं !शीघ्र ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और हाईकमान के निर्देश पर रणनीति की घोषणा की जाएगी जिसमें एक बड़े आंदोलन की रूपरेखा तय की जा रही है रालोद को इस लड़ाई को आर पर लड़ना होगा और जनपद प्रशासन को एहसास कराना पड़ेगा कि किसान मजदूर इतना कमजोर नही है ,ये जिला किसान राजनीति का केंद्र है और इस बार प्रशासन के साथ आर पार होगी!
सभा का संचालन विदित मलिक प्रधान और अध्यक्षता किरणपाल मलिक ने की।
पंचायत में पूर्व विधायक राजपाल बालियान, जिलाध्यक्ष अजित राठी,सुधीर भारतीय,हर्ष राठी,सार्थक लटियान,दीपक निर्वाल,जिला पंचायत वीरेंद्र सिंह,सैकड़ो छेत्रवासियो के साथ उपस्थित रहे!
पंचायत में तय हुआ कि जब भी रालोद आह्वान करेगा पूरा छेत्र सड़को पर होगा!