Home उत्तर प्रदेश योगी राज के राम राज्य में हत्यारे और अपराधी बेखौफ, आम जनता...

योगी राज के राम राज्य में हत्यारे और अपराधी बेखौफ, आम जनता दहशत में: अजय कुमार लल्लू

 

राजसत्ता पोस्ट

तिहरे हत्याकाण्ड, नाबालिग से बलात्कार और हिरासत में हत्या से प्रदेश दहला: अजय कुमार लल्लू

प्रदेश में कानून का राज हुआ जमींदोज: अजय कुमार लल्लू

योगी राज के राम राज्य में हत्यारे और अपराधी बेखौफ, आम जनता दहशत में: अजय कुमार लल्लू

आगरा, चन्दौली, बुलन्दशहर, रायबरेली की घटनाएं सभ्य लोकतंत्र के लिए कलंक: अजय कुमार लल्लू

लखनऊ, 31 अगस्त 2020
प्रदेश में सिलसिलेवार हो रही हत्याएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। आगरा जनपद में हुए तिहरे हत्याकाण्ड, नाबालिग से बलात्कार और पुलिस हिरासत में हुई हत्या से पूरा प्रदेश दहल उठा है। उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी गिरती कानून व्यवस्था और लगातार हो रही हत्याएं और अपराध पर नियंत्रण हेतु प्रदेश के मुख्यमंत्री से तत्काल ठोस कदम उठाने की मांग की है।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू ने जारी बयान में कहा कि आज उ0प्र0 के योगी राज में कानून का राज पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है। नाबालिग बच्चियों के साथ आये दिन बलात्कार, गैंगरेप और हत्या हो रही है। प्रदेश के मुखिया टीम -11 द्वारा एकत्र फर्जी और झूठे तथ्यों को आम जनता के सामने रखकर गुमराह करने का काम कर रहे हैं। यही कारण है कि अब तो हिरासत मंे मौतें होना आम बात हो चली है।

प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू ने कहा कि आगरा, चन्दौली, बुलन्दशहर, रायबरेली की घटनाएं हमारे सभ्य समाज और लोकतंत्र के लिए कलंक हैं। मुख्यमंत्री जी सत्ता के गुमान में मस्त हैं। अपराधी जंगलराज में मस्त हैं। पुलिस का इकबाल लगातार गिर रहा है और अपराधी मनबढ़ हुए जा रहे हैं।

श्री अजय कुमार लल्लू ने कहा कि अभी हाल के दिनों में लखीमपुर, सीतापुर, जालौन, गाजियाबाद, गोरखपुर, कानपुर, आजमगढ़, बलिया, औरैया आदि जनपदों में हुई जघन्य घटनाओं की स्याही सूख ही नहीं पायी कि आगरा, चंदौली, बुलन्दशहर और रायबरेली की घटना ने योगी राज में जंगलराज का डंका बजा दिया। इतना ही नहीं पुलिस का इकबाल पूरी तरह खत्म होता जा रहा है। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री जी आत्म-मुग्धता छोड़कर अपराध को रोकने हेतु सख्त कदम उठायें और अपराधियों के हौसले पस्त करने के लिए घटनाओं पर त्वरित कार्यवाही करते हुए अपराधियों को शीघ्र और सख्त से सख्त सजा दिलायें।