रवि शास्त्री ने नम आँखों से टीम इंडिया से ली विदा, जाते जाते दे गये ये संदेश ।

खबरे सुने

टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम में भी अचानक छाया सन्नाटा, उदासी हर चेहरे पर देखने को मिली, मौका था रवि शास्त्री की विदाई का, उस वक्त माहौल गमगीन दिखा.जुदाई के आसार सबके चेहरों से नुमायाँ थे,
खिलाड़ी अपने हेड को गले से लगाते दिखे. हेड कोच के साथ साथ बॉलिंग कोच भरत अरूण (Bharat Arun) और फील्डिंग कोच आर. श्रीधर (R. Sridhar) को भी गले से लगाया. दरअसल, रवि शास्त्री के साथ साथ इन दोनों का भी कार्यकाल टीम इंडिया के लिए खत्म हो गया. जिस ड्रेसिंग रूम में गर्मी होती थी, वहां फिलहाल नरमी दिखी. अपने कोच के प्रति खिलाड़ियों का मन भारी-भारी दिखा. हालांकि, रवि शास्त्री यूं ही नहीं चले गए. बल्कि जाने से पहले ’70 सेकेंड’ का एक संदेश भी देकर गए.
रवि शास्त्री ने ’70 सेकेंड’ के अपने संदेश से टीम इंडिया के खिलाड़ियों में जाते जाते भी जोश भरने का काम किया. इस संदेश के जरिए उन्होंने उन्हें उनकी उपलब्धियां गिनाईं. उन माहौल को याद दिलाया, जिनमें भारतीय खिलाड़ियों ने झंडे गाड़े थे. उन टीमों की गिनती कराई जिनके खिलाफ भारत पहले कभी जीता ही नहीं था. उन्होंने कहा कि ये मत देखो कि क्या पाया. ये देखो कि किन हालातों में, किन किन कठिनाइयों से पार करते हुए तुमने वो पाया है.
अपने 70 सेकेंड के भाषण में रवि शास्त्री ने ये तो कहा कि उन्हें ICC खिताब नहीं जीत पाने का मलाल रहेगा. लेकिन साथ ही ये भी कहा कि इस टीम पर उन्हें पूरा भरोसा है. ये टीम मौका भुनाएगी. अनुभव से खिलाड़ी सीखेंगे और बाजी मारेंगे. ड्रेसिंग रूम में रवि शास्त्री को मिले फेयरवेल और उनकी स्पीच का वीडियो BCCI ने सोशल मीडिया पर शेयर किया है.

BCCI के शेयर किए वीडियो के पहले 70 सेकेंड में शास्त्री भारतीय खिलाड़ियों से वो बातें कहते दिखते हैं जो वो उनसे कहना चाहते हैं. इसके बाद कोच से खिलाड़ियों और बाकी सपोर्ट स्टाफ के मिलने जुलने का दौर शुरू होता है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.