Home राजनीति राज्‍यसभा चुनाव को लेकर बिहार में सियासत, आरजेडी-कांग्रेस चाहते बीजेपी बनाए पासवान...

राज्‍यसभा चुनाव को लेकर बिहार में सियासत, आरजेडी-कांग्रेस चाहते बीजेपी बनाए पासवान की पत्‍नी को प्रत्‍याशी

पटना। Bihar Rajya Sabha Election राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) की पत्नी रीना पासवान (Rina Paswan) को राज्यसभा चुनाव का प्रत्याशी (Rajya Sabha Election Candidate) बनाने को लेकर राजनीति गर्म है। विपक्षी महागठबंधन (Mahagathbandhan) की ओर से रीना पासवान को प्रत्याशी बनाए जाने की चर्चा के बीच कांग्रेस (Congress) ने अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर उनको राज्यसभा भेजने का दबाव बनाया है। उधर, राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) से राज्‍यसभा प्रत्‍याशी के रूप में पूर्व मंत्री श्‍याम रजक (Shyam Rajak) के नाम की भी चर्चा है। हालांकि, श्‍याम रजक ने रीना पासवान का समर्थन करते हुए कहा है कि बीजेपी को इस संबंध में विचार करना चाहिए।

आरजेडी की कोशिश: सुशील मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ें रीना

विदित हो कि एलजेपी के संस्‍थापक व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के निधन के बाद खाली हुई राज्‍यसभा की सीट के लिए राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की ओर से बीजेपी ने बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी (Ex Dy.CM Sushil Modi) को प्रत्‍याशी बनाने का फैसला किया है। इस बीच महागठबंधन (Grand Alliance) की ओर से राम विलास पासवान की पत्‍नी रीना पासवान को प्रत्‍याशी बनाए जाने की को‍शिश की चर्चा है। हालांकि, एलजेपी अध्‍यक्ष व राम विलास पासवान के बेटे चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने इस प्रस्‍ताव को खारिज कर दिया है। बताया जाता है कि चिराग को मनाने की कोशिशों के बीच आरजेडी श्‍याम रजक के नाम पर भी विचार कर रहा है। इस बीच महागठबंघन के घटक दल बीजेपी पर रीना पासवान को प्रत्‍याशी बनाने का दबाव बना रहे हैं।

कांग्रेस बोली: पासवान के बाद उनके उपकारों को भूल गई बीजेपी

कांग्रेस ने पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी से कहा है कि वे हठधर्मिता छोड़ रीना पासवान को राज्यसभा भेजने की पहल करे। कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौर ने मंगलवार को कहा कि बीजेपी और सुशील मोदी को यह नहीं भूलना चाहिए कि बीजेपी को बिहार विधानसभा में 74 सीटें एलजेपी और चिराग पासवान की बदौलत ही मिली हैं। यदि चिराग पासवान ने एनडीए में शामिल जनता दल यूनाइटेड (JDU) के खिलाफ प्रत्याशी नहीं दिया होता तो आज बीजेपी का भी वही हाल होता तो जेडीयू का है। राठौर ने कहा कि बीजेपी को यह भी नहीं भूलना चाहिए कि जब तक राम विलास पासवान जीवित रहे, बीजेपी उनके नाम पर देशभर में दलितों के वोट हासिल करती रही। अब पासवान के दुनिया से जाते ही बीजेपी उनके उपकारों की भूल गई है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि बीजेपी अपने लाभ के लिए रीना पासवान की जगह सुशील मोदी को राज्यसभा उम्मीदवार के रूप में पेश कर रही है। यह सरासर गलत है। बीजेपी को बड़ा हृदय दिखा कर रीना पासवान को राज्यसभा भेजना चाहिए।

श्‍याम रजक बोले: एनडीए रीना पासवान को बनाए प्रत्‍याशी

आरजेडी में राज्‍यसभा सीट के लिए उम्‍मीदवारी को लेकर श्‍याम रजक के नाम की भी चर्चा है। हालांकि, खुद श्‍याम रजक इसकी जानकारी से इनकार करते हैं। उन्‍होंने कहा कि राम विलास पासवान की सीट दलित के नाम पर दी गई थी। पासवान ने सदन से सड़क तक दलितों की लड़ाई लड़ी। उन्‍होंने कहा कि इस सीट पर रीना पासवान को एनडीए का प्रत्‍याशी बनाया जाना चाहिए। इसके लिए बीजेपी को पहल करनी चाहिए।