योगी सरकार द्वारा जनता को मिलेगा मेगा परियोजनाओं का सीधा लाभ,निर्माण कार्य हुआ पूरा।

खबरे सुने

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ इस महीने सूबे की जनता को कई ऐसी मेगा परियोजनाओं की सौगात देने जा रहे हैं , जिसका इस्तेमाल जनता जनार्दन वर्षो -वर्ष करेंगी । ये वह मेगा परियोजनाएं हैं जिनका निर्माण कार्य मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सत्ता संभालने के बाद शुरू कराया था। इन मेगा परियोजनाओं में पूर्वांचल एक्सप्रेसवे काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर का निर्माण कार्य पूरा हो गया है। इस महीने अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन मेगा परियोजनाओं को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में सूबे की जनता को सौंपेंगे। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जेवर एयरपोर्ट, फिल्म सिटी गंगा एक्सप्रेस वे जैसी मेगा परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे। इसके अलावा गोरखपुर का बंद पड़ा खाद कारखाना गोरखपुर एम्स भी अगले माह तक शुरू हो जाएगा।
राज्य में यह पहला अवसर है जब किसी नवंबर दिसंबर में जनता के उपयोग वाली करोड़ों रुपए खर्च कर तैयार कराई गई कई मेगा परियोजनाएं जनता को सौंपी जाएंगी।

राज्य सरकार से मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में करीब 42 हजार करोड़ रुपए की लागत से तैयार कराया गया 340.82 किमी लंबा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे इस माह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनता को सौंपेंगे। जबकि करीब 36,000 करोड़ रुपए की लागत से तैयार होने वाले गंगा एक्सप्रेस वे की आधारशीला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अगले माह रखी जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट कहे जाने वाले पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास जुलाई 2018 में आजमगढ़ में प्रधानमंत्री मोदी ने किया था। इस एक्सप्रेस-वे को पूर्वी यूपी के लिए लाइफ लाइन कहा जा रहा है। लखनऊ से आजमगढ़ मऊ होते हुए गाजीपुर तक 340.824 किमी लंबे इस एक्सप्रेस-वे पर वाहनों के फरार्टा भरने से जहां समय के लिहाज से पूर्वी पश्चिमी यूपी के बीच की दूरी कम हो जाएगी, वहीं व्यापार वाणिज्य को पंख लगेंगे। करीब 15,000 करोड़ रुपए की लागत से 296.07 किमी लंबा बुन्देलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण का कार्य तेजी से हो रहा है। बुन्देलखंड एक्सप्रेस वे का शिलान्यास बीते वर्ष 29 फरवरी को किया गया था। चित्रकूट से शुरू होने वाला यह एक्सप्रेस वे बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन होते हुए इटावा के कुदरौल गांव के पास लखनऊ -आगरा एक्सप्रेस से जुड़ेगा। इस एक्सप्रेस वे के बनने से बुंदेलखंड पहुंचना आसान होगा, वहां कृषि, वाणिज्यिक, पर्यटन उद्यमिता के लिए राह आसान होगी बुंदेलखंड का विकास होगा।

इसी माह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के झांसी आने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। यहां वह रानी लक्ष्मी बाई की 193 वीं जयंती समारोह में शिरकत करेंगे। झांसी किला परिसर में प्रधानमंत्री की रैली की तैयारी है। प्रधानमंत्री झांसी में नल के जरिए जल योजना समेत कई विकास परियोजनाओं को हरी झंडी दिखाएंगे। इसके अलावा डिफेंस कॉरिडोर के तहत झांसी नोड में निवेश परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। इसके तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत डायनामिक्स लिमिटेड (बीडीएल) द्वारा झांसी नोड में लगाई जा रही फैक्ट्री के भूमि पूजन कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। बीडीएल झांसी नोड में स्वदेशी तकनीक से रक्षा क्षेत्र में आकाश मिसाइल में प्रयुक्त होने वाली प्रणोदन प्रणाली निर्माण की सुविधा की स्थापना करेगी। प्रदेश सरकार ने इसके लिए 183 हेक्टेयर भूमि आवंटित की है, 400 करोड़ रुपए का निवेश कर इस भूमि पर आकाश मिसाइल में उपयोग की जाने वाली प्रणाली का निर्माण किया जाएगा। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर जैसी परियोजना की सौगात जनता को देंगे। वाराणसी का काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्माण कार्य करीब-करीब पूरा हो गया। इस माह के अंत तक काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का काम पूरा हो जाएगा। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट है। मार्च 2019 में पीएम मोदी ने इस प्रोजेक्ट की शुरूआत की थी। लगभग 400 करोड़ की लागत से बन रहे इस काशी विश्वनाथ कॉरिडोर को अगले माह पीएम नरेंद्र मोदी किसी भी दिन जनता को सौपेंगे।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ,गंगा एक्सप्रेसवे, जेवर एयरपोर्ट, फिल्म सिटी ,जैसे मेगा प्रोजेक्ट की आधारशिला भी प्रधानमंत्री रखेंगे। गंगा एक्सप्रेस वे यूपी का सबसे बड़ा एक्सप्रेस वे होगा। करीब 36 हजार करोड़ रुपए की लागत से तैयार होने वाला यह एक्सप्रेस वे 595 किमी लंबा होगा। मेरठ से शुरू होकर यह एक्सप्रेस वे प्रयागराज पर समाप्त होगा। दिसंबर में प्रधानमंत्री इस एक्सप्रेस वे की आधारशिला रखेंगे। इसी प्रकार गौतमबुद्धनगर (नोएडा) में बनने वाले जेवर एयरपोर्ट फिल्म सिटी के निर्माण की आधारशिला भी प्रधानमंत्री इसी माह रखेंगे। उक्त दोनों परियोजनाएं भविष्य में सूबे की शान साबित होंगी औत इन दोनों परियोजनाओं से हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा। जेवर एयरपोर्ट देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा। नवंबर तथा दिसंबर में सूबे को मिलने वाली उक्त परियोजनाओं के पहले प्रधानमंत्री पिछले महीने वाराणसी, कुशीनगर को कई विकास परियोजनाओं की सौगात दे चुके हैं। बीते माह प्रधानमंत्री ने भगवान बुद्ध की क्रीड़ास्थली सिद्धार्थनगर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में नौ नए राजकीय मेडिकल कॉलेजों की सौगात प्रदेश को दी थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.