अपने बिछाए जाल मे फंसा पाकिस्तान, गले की हड्डी बना तालिबानी बुखार ।

खबरे सुने

पाकिस्तान : कहावत है कि दूसरे के लिए कुआँ खोदने वाला खुद भी खाई मे गिरता है पाकिस्तान की भी वही दशा हुई है, जिस तालिबान का पाकिस्तान शुरू से राग अलाप रहा था, और खुद भी मदद कर रहा था और पूरी दुनिया से उसे समर्थन करने की गुहार लगा रहा है वही तालिबान अब पाकिस्तान पर कहर बनकर टूट रहा है। पाकिस्तान ने कभी सोचा भी नही होगा कि तालिबान की मदद करने पर वापस वहीं उसके लिए काल बनेगा।पाकिस्तान से लगने वाली अफगानिस्तान की सीमा पर पाकिस्तान जवानों के ऊपर आतंकी हमले हुए जिसमें 8 और जवानों की मौत हो गई है।
बताते चलें कि, पिछले दो दिनों में पाकिस्तान के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में खैबर, पख्तूनख्वा प्रांत, के क्षेत्रों में सीमा पार से हुए हमले और बम विस्फोटों में 8 और पाकिस्तानी सुरक्षाकर्मियों की जान चली गई है और एक अन्य घायल हो गया है। डॉन अखबार ने पाकिस्तान सशस्त्र बलों के मीडिया विंग के हवाले से बताया है कि अफगानिस्तान के अंदर के आतंकवादियों ने मंगलवार और बुधवार के बीच कुर्रम जिले में दोनों देशों की सीमा पर लगे बाड़ को पार करने का प्रयास किया , पाक सेना ने कबायली जिले में सीमा पार करने के प्रयास को विफल कर दिया है लेकिन इस दौरान भारी गोलीबारी में दो सैनिकों की मौत हो गई। इसके अलावा लक्की मारवत को मियांवाली जिले से जोड़ने वाली एक व्यस्त सड़क पर मंगलवार को गश्ती के दौरान हुए हमले में चार पुलिस कांस्टेबल शहीद हो गए।
वहीं, एक दूसरी घटना में लक्की शहर के पास एक पुलिस के प्रमुख पर हमला हुआ, मोटरसाइकिल सवार हथियारबंद लोगों ने पुलिस वैन पर फायरिंग कर भाग गए। अफगानिस्तान में तालिबानी सरकार आने से जहां पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान खुश हैं और दुनियाभर से उसके समर्थन की बात कर रहे हैं वही पाकिस्तानियों की जान लेने पर तुला हुई है। पाकिस्तान को आने वाले दिनों में तालिबानी यारी काफी महंगी साबित होने वाली है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.