Home उत्तर प्रदेश अब कार से अचानक किसी भी जिले का दौरा करेंगे सीएम योगी,...

अब कार से अचानक किसी भी जिले का दौरा करेंगे सीएम योगी, परखेंगे विकास की जमीनी हकीकत

लखनऊ। फाइलों और आंकड़ों में अपने-अपने जिलों की व्यवस्थाएं चाक-चौबंद बताने वाले अफसरों की गर्दन अब कभी भी फंस सकती है। मुरादाबाद से गाजियाबाद तक सड़क यात्रा कर अधिकारियों के कामकाज की झलक देख चुके उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कुछ अव्यवस्थाओं से असंतुष्ट हैं। इस यात्रा के बाद उन्होंने संकेत दे दिया है कि वह अब किसी भी जिले का कार से अचानक दौरा कर विकास की हकीकत परख सकते हैं।

कोरोना महामारी के दौरान भी कई जिलों में खुद जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लेने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते दिनों में कुछ जिलों में अस्पतालों और धान क्रय केंद्रों का भी निरीक्षण किया है। कमियां मिलने पर अधिकारियों पर कार्रवाई भी हुई है। ऐसे में सोमवार को विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक में सीएम योगी के सख्त लहजे की भी वजह थी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभागों में कर्मठ और योग्य अधिकारियों की तैनाती की बात इसलिए भी कही है, क्योंकि शनिवार को मुरादाबाद से गाजियाबाद तक सड़क यात्रा के दौरान उन्हें मेरठ शहर में सड़क किनारे गंदगी और कूड़े के ढेर दिखाई दिए। सोमवार को लखनऊ में साफ-सफाई का काम देखने वाले वरिष्ठ अधिकारियों को तलब कर व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने का निर्देश दिया।

मुरादाबाद से गाजियाबाद में कैलास मानसरोवर यात्रा भवन का लोकार्पण करने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हैलीकॉप्टर से जाना था। पायलट ने मौसम खराब बताया। सुरक्षा अधिकारियों ने कार्यक्रम स्थगित करने की सलाह दी, लेकिन सीएम योगी नहीं माने और सड़क मार्ग से चल दिए। उन्होंने कह दिया कि कैलास मानसरोवर यात्रा भवन का लोकार्पण करने जरूर जाएंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस अंदाज से संदेश मिल गया है कि वह अब कभी भी किसी जिले का औचक दौरा कार से कर सकते हैं। उनकी नजर विशेष तौर पर स्वास्थ्य, शिक्षा और साफ-सफाई की व्यवस्थाओं पर रहेगी। हालांकि, बीते साढ़े तीन वर्षों में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सूबे के हर जिले में कम से कम दो बार दौरा कर चुके हैं। अब कार यात्रा कर वह सीधे जनता से संवाद करने, जनता का मिजाज और सरकारी कामकाज को परखने के लिए निकल सकते हैं।