Home उत्तर प्रदेश योगी सरकार के नारी शक्ति के लिये नवरात्रि में नौ अहम फैसले…

योगी सरकार के नारी शक्ति के लिये नवरात्रि में नौ अहम फैसले…

लखनऊ । मिशन शक्ति के पहले चरण में शारदीय नवरात्रि के नौ दिनों में योगी सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान और स्वावलम्बन के लिये नौ सबसे अहम फैसले लिये । महिलाओं के हित में केवल नौ दिनों ताबङतोङ फैसले लेकर देश में एक नया रिकार्ड कायम किया है । योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में महिलाओं की स्थिति में बदलाव और उनके बराबरी के दर्जे को मजबूती देने की दिशा में नई इबारत लिख दी है । पिंक पेट्रोल से लेकर पुलिस थानों और तहसीलों में हेल्प डेस्क, सीक्रेट रूम का गठन हो या फिर महिलाओं की सुविधा के लिये पुलिस के 112 हेल्पलाइन में क्षेत्रीय भाषाओं को शामिल करने का फैसला । खुद मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य सरकार ने महिला विकास, सुरक्षा और संरक्षा का रोडमैप तय कर लिया है ।
400 के खिलाफ मुकदमा, 14 दोषियों को फाँसी तो 20 को मिली उम्रकैद की सजा
महिलाओं और बच्चों से अपराध करने वालों के खिलाफ योगी सरकार ने कोर्ट में मजबूती से पक्ष रखते हुये अपराधियों को सजा दिलाई जिसमें 14 को फांसी की सजा और 20 को आजीवन कारावास की सजा हुयी। वहीं 54 मामलों के 62 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर 101 शोहदों को 6 महीने के लिए जिला बदर भी कराया ।
तहसील और ब्लाक स्तर पर महिला हेल्प डेस्क
महिलाओं की समस्याओं का प्राथमिकता से निस्तारण हो इसके लिये तहसील व ब्लाक स्तर पर महिला हेल्प डेस्क स्थापित की, जिससे महिलाओं को राजस्वि संबंधी शिकायतों के निस्ता रण के लिए दर-दर भटकना न पड़े हेल्प डेस्क पर महिलाओं के बैठने, पानी पीने के साथ–साथ कम्प्यूटर पर शिकायत दर्ज करने और उनकी नियमित समीक्षा की भी व्यवस्था की गयी ।

हर थाने पर महिला हेल्प डेस्क
योगी सरकार प्रदेश के सभी 1535 थानों में महिला हेल्प डेस्क का शुभारम्भ किया जिससे महिलायें अपनी शिकायतों को महिला पुलिसकर्मियों के सामने खुलकर बता सकें । महिला और बालिकाओं की समस्या के निदान व सुरक्षा के संबंध में अलग से महिला कांस्टेबल और कक्ष की व्यवस्था भी की गयी।

112 पुलिस हेल्पलाइन द्वारा क्षेत्रीय भाषाओं में बातचीत

योगी सरकार ने ग्रामीन अंचल की महिलाओं की सुविधा के लिये 112-यूपी पर अब क्षेत्रीय भाषाओं में समस्या बताकर समाधान कराने का निर्णय लिया । अधिकारी कॉल करने वालों से उन्हीं की बोलियों भोजपुरी, अवधी, ब्रज, बुन्देलखंडी आदि में बात करेंगे। जिससे परस्पर संवाद की प्रक्रिया को और बेहतर किया जा सकेगा ।
बेसिक और माध्यमिक शिक्षा में चयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र
योगी सरकार ने बेसिक शिक्षा के 31,277 एवं माध्यमिक शिक्षा के 3,317 चयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित किये । जिसमें महिलाओं की संख्या पुरुषों की अपेक्षा अधिक रही ।

जनप्रतिनिधियों को महिला सुरक्षा का लक्ष्य

मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की महिला जनप्रतिनिधियों से वेबिनार के माध्यम से बातचीत की । जिसमें उन्होंने महिला सुरक्षा को प्रत्येक क्षेत्र में बनाये रखने का लक्ष्य दिया और सभी महिला प्रतिनिधियों को सरकार का पूरा सहयोग देने की बात कही ।
पुलिस में 20 प्रतिशत महिलाओं की भर्ती
महिलाओं को ज्यादा सुरक्षा और सुविधा मिल सके इसके लिये सीएम योगी ने पुलिस में महिलाओं की 20 फीसदी अनिवार्य भर्ती का फैसला किया है ।

पिंक पेट्रोल
प्रदेश सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा के लिये पिंक पेट्रोल सेवा शुरू की है । इसके तहत राजधानी में 10 एस यू वी और 100 स्कूटी के साथ करीब 250 महिला पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है । ये महिला पुलिस कर्मी राजधानी के अलग–अलग जगहों पर तैनात रहकर महिलाओं को सुरक्षा और सहायता देंगी । यह सेवा अगले चरण में कानपुर, आगरा, गाजियाबाद, मेरठ, बरेली, प्रयागराज, वाराणसी और गोरखपुर में शुरू की जायेगी ।

पिंक बूथ
महिलाओं की सुरक्षा और सुविधा के लिये योगी सरकार ने राजधानी में 17 अक्टूबर पिंक बूथ सेवा का शुभारम्भ किया ।
थानों में ट्रान्सपैरेन्ट सीक्रेट रूम
योगी सरकार ने प्रत्येक थानों में ट्रान्सपैरेन्ट सीक्रेट रूम बनाने के निर्देश दिये जो कि पूरे तरीके से पारदर्शी होंगे और बुनियादी सुविधाओं से लैस होंगे । इसमें पीङित महिलायें महिला पुलिस कर्मी से बिना संकोच के अपनी बात कह सकेंगी और उन्हें न्याय मिल सकेगा ।
महिलाओं को औद्योगिक क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प
गांव से लेकर शहर तक महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलंबन के क्षेत्र में उन्हें जागरूक किया जाएगा और औद्योगिक विभाग द्वारा सभी औद्योगिक संगठनों एवं उद्यमियों के सहयोग से महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए वृहद रूप जागरूकता कार्यक्रम संचालित किये जायेंगे।
आपरेशन शक्ति का ऐलान
योगी सरकार ने प्रदेश में महिलाओं के प्रति अपराध रोकने के लिये आपरेशन शक्ति का ऐलान किया है इसके तहत महिलाओं पर बुरी नजर रखने वालों को पुलिस सबक सिखाएगी उन्हे जेल भेजा जायेगा योगी सरकार ने ऐसे अपराधियों के खिलाफ कङी कार्यवाही के निर्देश दिये हैं यह आपरेशन 6 महीने तक चलेगा ।