Home उत्तराखंड संगठन की सेवा का प्रतिफल मिला नरेश बंसल को

संगठन की सेवा का प्रतिफल मिला नरेश बंसल को

देहरादून। वरिष्ठ भाजपा नेता और वर्तमान में राज्य में बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष (कैबिनेट मंत्री स्तर) नरेश बंसल को संगठन में सक्रियता, राष्ट्रीय सेवक संघ की पृष्ठभूमि और केंद्रीय नेताओं से नजदीकी का फल आखिरकार राज्यसभा टिकट के रूप में मिल ही गया। वह तकरीबन 50 वर्षों से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता के रूप में संगठन और भाजपा को मजबूत बनाने में जुटे हुए हैं।

नरेश बंसल उत्तराखंड में भाजपा के प्रमुख नेताओं में से एक हैं। वह पार्टी के रीति नीति से भली भांति वाकिफ होने के साथ ही संगठन से भी लंबे समय से जुड़े रहे हैं। उन्होंने वर्ष 2012 में राज्यसभा सीट के लिए नामांकन किया था। यह बात अलग है कि संगठन के निर्देश पर उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया था। अब पार्टी ने उनके अनुभव को तरजीह देते हुए राज्यसभा भेजने का रास्ता साफ कर दिया है। नरेश बंसल इससे पहले लोकसभा चुनावों में भी कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष का दायित्व निभा चुके हैं। इन चुनावों में भाजपा ने प्रदेश की सभी पांचों लोकसभा सीट पर विजय हासिल की थी।

उनका जन्म निम्न मध्यम वर्गीय वैश्य परिवार में हुआ। उनकी प्रारंभिक शिक्षा-दीक्षा देहरादून में ही हुई है। 14 वर्ष की उम्र में उन्होंने संघ का प्राथमिक शिक्षा वर्ग किया। बाद में नागपुर से संघ के तृतीय वर्ष का शिक्षण लिया। उन्होंने देहरादून के डीएवी कॉलेज से एम कॉम तक की शिक्षा प्राप्त की है। वह सिंचाई विभाग तथा यूको बैंक में भी कार्य कर चुके हैं। आपातकाल में भी उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी। वह पूर्व में भाजपा सरकार में वर्ष 2009 से वर्ष 2012 तक अध्यक्ष आवास एवं विकास बोर्ड का दायित्व संभाल चुके हैं।

बंसल ने वर्ष 2002 से वर्ष 2009 तक लगातार सात वर्षों तक भाजपा प्रदेश महामंत्री संगठन के रूप में कार्य किया। वर्ष 2009 से वर्ष 2012 तक राष्ट्रीय कार्यसमिति में सदस्य के रूप में स्थायी आमंत्रित सदस्य के रूप में शामिल रहे। वर्ष 2012 में उन्होंने विधानसभा चुनाव समिति के सचिव का दायित्व निभाया। वर्ष 2012 से वर्ष 2019 तक उन्होंने प्रदेश महामंत्री भाजपा का दायित्व निभाया। 2017 के विधानसभा चुनावों में वह भाजपा के स्टार प्रचारक और प्रदेश कार्यालय प्रभारी की भूमिका में रहे। वर्तमान में वह उत्तराखंड प्रदेश कोर ग्रुप के सदस्य का दायित्व निभा रहे हैं।