Home मनोरंजन फिल्म इंडस्ट्री की ऑलराउंडर हैं मंदिरा बेदी, अब बन गई है फिटनेस...

फिल्म इंडस्ट्री की ऑलराउंडर हैं मंदिरा बेदी, अब बन गई है फिटनेस आइकन

नई दिल्ली। अभिनेत्री मंदिरा बेदी अपना जन्मदिन 15 अप्रैल को मनाती हैं। वह उन अभिनेत्रियों में से एक हैं जिन्होंने बॉलीवुड फिल्मों के अलावा छोटे पर्दे के लिए भी लंबे समय तक काम किया है। मंदिरा बेदी एक अच्छी अभिनेत्री होने के साथ-साथ एक शानदार टीवी प्रेजेंटर भी हैं। जन्मदिन के खास मौके पर हम आपको मंदिरा बेदी से जुड़ी खास बातों से रूबरू करवाते हैं।

मंदिरा बेदी का जन्म 15 अप्रैल साल 1972 को हुआ था। उन्होंने अपनी पूरी पढ़ाई मुंबई से की। पढ़ाई खत्म करने के बाद मंदिरा बेदी ने अभिनय की दुनिया में कदम रखने का फैसला किया। मंदिरा बेदी ने अपने करियर की शुरुआत साल 1994 में डीडी नेशनल के सबसे चर्चित सीरियल ‘शांति’ से की थी। इस सीरियल में मंदिरा बेदी के किरदार को दर्शकों ने खूब पसंद किया। ‘शांति’ सीरियल लंबे समय तक प्रसारित भी हुआ था।

इसके बाद मंदिरा बेदी ‘आहट’, ‘औरत’, ‘घर जमाई’, ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ और ’24’ में जैसे चर्चित सीरियल में नजर आ चुकी हैं। मंदिरा बेदी क्रिकेट प्रेमी भी हैं, यही वजह है जो उन्होंने लंबे समय तक क्रिकेट मैचों के लिए बतौर टीवी प्रेजेंटर का काम किया। मंदिरा बेदी फिल्मों और वेब सीरीज में भी अपना हाथ आजमा चुकी हैं। उन्होंने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत हिंदी सिनेमा की सदाबहार फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ से की थी।

इस फिल्म मंदिरा बेदी का भले ही छोटा किरदार रहो हो, लेकिन दर्शकों ने उनके किरदार को खूब पसंद किया था। इसके बाद वह ‘शादी का लड्डू’, ‘दस कहानियां’, ‘इत्तेफाक’, ‘वोडका डायरीज’ और ‘साहो’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी हैं। मंदिरा बेदी वेब सीरीज ‘स्मॉक’, ‘थिंकिस्तान’ और ‘शादी फिट’ में भी काम कर चुकी हैं। अभिनय के अलावा मंदिरा बेदी अपनी निजी जिंदगी की वजह से भी चर्चा में रही हैं।

मंदिरा बेदी ने 1999 में डायरेक्टर राज कौशल के साथ शादी की थी। इसके 12 साल बाद मंदिरा ने बेटे को जन्म दिया। इतने साल बाद प्रेग्नेंसी के सवाल पर मंदिरा ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था, ‘जब मैं 39 साल की थी तब मैंने एक बेटे को जन्म दिया। मेरे कॉन्ट्रैक्ट्स ने मुझे प्रेग्नेंट नहीं होने दिया। मुझे डर था कि अगर मैं प्रेग्नेंट हो गई तो मेरा करियर खत्म हो जाएगा। इस सब कफी मुश्किल था, लेकिन मेरे पति ने मेरा बहुत साथ दिया।’