पोषण चाहते हैं तो भूलकर भी न करें ये गलतियां

पोषण चाहते हैं तो भूलकर भी न करें ये गलतियां

नई दिल्ली। पोषण आपके शरीर को सही तरीके से काम करने में मदद करता है। आवश्यक या पर्याप्त पोषण की कमी वाला आहार कुपोषण के रूप में जानी जाने वाली स्थिति को जन्म दे सकता है। एक नियमित डाइट चार्ट का पालन करने के बावजूद, लोग अक्सर अस्वस्थता का अनुभव करते हैं।

सितंबर का पहला हफ्ता हर साल पोषण सप्ताह के रूप में मनाया जाता है। इस पोषण सप्ताह, आइए एक नज़र डालते हैं पोषण से जुड़ी उन हानिकारक गलतियों पर जो अक्सर लोग करते हैं।

पोषण और डाइट से जुड़ी इन 5 गलतियों से रहें दूर

प्रोटीन को नज़रअंदाज़ करना

कोशिकाओं की वृद्धि, मरम्मत और विकास के लिए प्रोटीन बेहद आवश्यक है। प्रोटीन की कमी से त्वचा खराब हो सकती है, अस्वस्थ हड्डियां और मांसपेशियों, बिगड़ा हुआ संज्ञानात्मक कार्य और कमज़ोर प्रतिरक्षा हो सकती है। प्रोटीन ज़रूरत को पूरा करने के लिए, आप अपनी डाइट में रोज़ाना अंडे, लीन मीट, दूध और नट्स जैसे खाद्य पदार्थों को शामिल कर सकते हैं।

खाना की गुणवत्ता और कैलोरी दोनों पर दें ध्यान

भोजन की गुणवत्ता पर ध्यान केंद्रित करके कैलोरी कम करने से आप में ऊर्जा और पोषण की कमी हो सकती है। वहीं, कैलोरी पर ध्यान केंद्रित करने और भोजन की गुणवत्ता को नज़रअंदाज़ करने से आप हानिकारक और अस्वस्थ कैलोरी की मात्रा का सेवन कर लेंगे। इन दोनों स्थितियों में आपको नुकसान ही पहुंचेगा इसलिए संतुलन बनाए रखना ज़रूरी है।

खाने की जगह सप्लीमेंट को चुनना

अगर ध्यान से और संयम से सेवन किया जाए तो सप्लीमेंट शरीर के लिए मददगार हो सकते हैं। हालांकि, यह ध्यान में रखा जाना चाहिए कि सप्लीमेंट खाने की जगह नहीं ले सकते और इन्हें इस तरह इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। सप्लीमेंट लेने से पहले हमेशा डॉक्टर से सलाह लें।

डाइट से फैट्स हटा देना

स्वस्थ फैट्स आपके शरीर के लिए उतने ही ज़रूरी हैं जितने कि अन्य पोषक तत्व। शरीर फैटी एसिड का उत्पादन नहीं कर सकता है इसलिए फैट युक्त डाइट आपके शरीर को ज़रूरी फैट्स मिलने में मदद कर सकती है। तापमान नियमन, ऊर्जा भंडारण और विटामिन अवशोषण के लिए शरीर के लिए स्वस्थ वसा महत्वपूर्ण है। फैटी फिश, एवोकाडो, नट्स और डेयरी प्रोडक्ट्स इसकी कमी को पूरा कर सकते हैं।

चीनी का सेवन सोच समझकर न करना

चीनी को सही मायने में सफेद ज़हर कहा जाता है, चीनी का अत्यधिक या अनियंत्रित सेवन बेहद हानिकारक हो सकता है क्योंकि इससे मधुमेह, मोटापा, हृदय रोग और प्रतिरक्षा हानि जैसी स्थितियों का विकास हो सकता है। इसलिए ज़रूरी है कि आप चीनी के सेवन से सावधान रहें।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Share this story