देहरादून : केदारनाथ हेलीकॉप्‍टर क्रैश हादसे में गुजरात के भावनगर की पूर्वा की भी मौत हुई है। पूर्वा रामानुजा सीहोर के रहने वाली थी।

केदारनाथ धाम पहुंचकर पूर्वा ने मंदिर के साथ मुस्‍कुराते हुए सेल्‍फी ली थी, लेकिन उसे क्‍या पता था कि ये उसके जीवन की आखिरी सेल्‍फी बन जाएगी।

मौत के बाद से स्‍वजन सदमे में

पूर्वा की मौत के बाद से उसके स्‍वजन सदमे में हैं। अपनी खुशमिजाज बेटी का इस तरह अचानक चले जाना उन्‍हें बड़ा दुख दे गया है। पूर्वा के पिता सीहोर नगर पालिका के सदस्य हैं। बेटी की मौत की खबर मिलते ही नेता व परिजन घर पहुंचे और सांत्वना दी।

मंगलवार को केदारघाटी में गरुड़चट्टी के निकट तीथयात्रियों को ले जा रहा हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में पायलट सहित सात लोगों की मौत हुई है।

दुर्घटना में एक दपंती समेत पांच महिला व दो पुरुष शामिल हैं। अभी दुर्घटना का प्रारंभिक कारण घना कोहरा बताया जा रहा है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दुख व्यक्त करते हुए दुर्घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए हैं।

मृतकों के नाम

  • पायलट अनिल कुमार (57 वर्ष) निवासी मुंबई।
  • पूर्वा रामानुज (26 वर्ष), कुर्ती बराड़ (30 वर्ष) व ऊर्वी बराड़ (25 वर्ष) तीनों निवासी गुजरात।
  • सुजाता (56 वर्ष) व उनके पति प्रेम कुमार (63 वर्ष), कला (60 वर्ष) तीनों निवासी तमिलनाडू।

केदारनाथ हेली सेवाएं बुधवार सुबह से सुचारू

हादसे की जांच के लिए बुधवार को डीजीसीए और एयरक्राफ्ट एक्सीडेंट इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो की टीम घटनास्थल पर जाएगी। मंगलवार को हादसे के बाद रोकी गई हेली सेवाएं बुधवार सुबह सुचारू कर दी गईं हैं।

मंगलवार को केदारनाथ के लिए संचालित होने वाली हेली सेवाओं की यह दिन की 13 वीं उड़ान थी, जो दुर्घटनाग्रस्त हुई। इससे पहले मंगलवार को हेली सेवाओं की 12 उड़ान संचालित हुई थीं। इनमें 66 यात्रियों को केदारनाथ धाम के लिए ले जाया गया और 60 यात्रियों को वापस लाया गया।

"
""
""
""
""
"

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ये भी पढ़ें