श्रम अधिकारी ने अपने अभियंता पति पर लगाया दहेज उत्पीड़न व पिटाई करने का आरोप

खबरे सुने

देहरादून। जिले की श्रम अधिकारी ने अपने अभियंता पति पर दहेज उत्पीड़न व पिटाई करने का आरोप लगाया है। रायपुर थाना पुलिस ने श्रम अधिकारी के पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। राज्य महिला आयोग में दी शिकायत में पिंकी टम्टा ने बताया कि उनकी शादी 14 अक्टूबर 2013 को शरद टम्टा निवासी गौचर, चमोली के साथ नरेंद्र नगर में हुई थी।

शरद टम्टा लोक निर्माण विभाग में अवर अभियंता के पद पर तैनात हैं। 25 सितंबर 2014 को उन्होंने बेटे को जन्म दिया, लेकिन उनके पति व ससुरालियों ने उनकी तरफ कोई ध्यान नहीं दिया। डिलीवरी के बाद पांच महीने तक वह अपने मायके नरेंद्रनगर में रहीं। कुछ समय बाद वह ससुराल गौचर चली गईं, जहां ससुराल पक्ष ने उन्हें परेशान करना शुरू कर दिया। आरोप है कि पिंकी को दहेज न लाने के लिए प्रताड़ि‍त किया जाता था। इसके बाद उनके पति ने अपना तबादला गोपेश्वर करा लिया।

आरोप है कि जुलाई 2016 में जब पिंकी ने पति को बच्चे की देखभाल के लिए कहा तो उसने पिटाई कर दी। पिंकी ने बताया कि फरवरी 2017 में वह दोबारा गर्भवती हुईं। जब उन्होंने यह बात अपने पति को बताई तो वह आग बबूला हो गए। अप्रैल 2017 में पिंकी का तबादला देहरादून हो गया। 17 नवंबर में उन्होंने दूसरे बच्चे को जन्म दिया। बच्चे को निमोनिया हो गया। यह बात उन्होंने अपने पति को बताई तो वह गुस्सा हो गए। महिला ने बताया कि मई 2019 में उन्होंने अपने पति का फोन चेक किया तो उसमें किसी महिला के साथ चैटिंग की बात सामने आई।

2019 में पति दीपावली पर देहरादून आए और उन्होंने पिंकी की पिटाई की। महिला का आरोप है कि 20 मार्च 2021 को उनके पति ने दो व्यक्तियों को उन्हें मारने के लिए भेजा था। एसओ रायपुर अमरजीत सिंह रावत ने बताया कि राज्य महिला आयोग के आदेश पर शरद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.