कुशीनगर International Airport यूपी के डेवलपमेंट में निभाएगा अहम भूमिका ।

खबरे सुने

लखनऊ: प्रधानमंत्री आज कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा का लोकार्पण करने वाले हैं. पीएम मोदी आज देश को समर्पित करेंगे कुशीनगर International Airport, श्रीलंका से आएगा पहला विमान इसके साथ होंगे नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Civil Aviation Ministry) के मुताबिक, यूपी गवर्नर आनंदीबेन पटेल, सीएम योगी और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी इस कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे.देश के विकास में कुशीनगर एयरपोर्ट का बड़ा रोल होगा. यह हवाई अड्डा उत्तर प्रदेश को विदेश से जोड़ने वाला है. आइए आसान भाषा में जानते हैं यूपी के डेवलपमेंट में कुशीनगर एयरपोर्ट कैसे गेम चेंजर होने वाला है.

1. उद्घाटन उड़ान 125 डिग्नीटरीज़ और बौद्ध भिक्षुओं को लेकर कोलंबो, श्रीलंका हवाई अड्डे पर उतरेगी.

2. दुनियाभर के बौद्ध अनुयायियों के लिए अब कुशीनगर बौद्ध तीर्थस्थल आना आसान हो जाएगा. इस हवाई अड्डे के उद्घाटन के बाद दुनिया के विभिन्न हिस्सों के तीर्थयात्री इस क्षेत्र के कई बौद्धस्थलों से जुड़े रह सकते हैं.

3. इस हवाई अड्डे के चालू होने के बाद पर्यटन प्रवाह (Tourism Inflow) में 20% तक की बढ़ोतरी होने की उम्मीग लगाई जा रही है.

4. कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा न केवल तीर्थस्थल के तौर पर दुनियाभर में छाएगा, बल्कि क्षेत्र के आर्थिक विकास को भी बढ़ावा देगा.

5. होटल बिजनेस, टूरिज्म एजेंसी, रेस्टोरेंट, आदि को बढ़ावा मिलेगा और साथ ही हॉस्पिटैलिटी बिजनेस में वृद्धि होगी.
6. कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के चालू होने के बाद से यहां पर लोकल लोगों के लिए भी रोजगार की संभावनाएं बढ़ जाएंगी. इसकी वजह से फीडर परिवहन सेवाओं, स्थानीय गाइड के काम में लोगों को नौकरी के अवसर मिलेंगे.

7. कुशीनगर एयरपोर्ट की शुरुआत होने से कुशीनगर का बौद्ध धर्म के चार प्रमुख स्थलों में से एक के तौर पर विकास होगा.

8. यह एयरपोर्ट दो करोड़ से ज्यादा की आबादी को सर्व कर सकता है. क्योंकि हवाई अड्डे के पास लगभग 10-15 जिलों का एक भीतरी इलाका है और यह वेस्टर्न यूपी के साथ बिहार के पश्चिमी और उत्तरी भाग की बड़ी प्रवासी आबादी को सपोर्ट कर सकता है.

9. कुशीनगर एयरपोर्ट के लोकार्पण के बाद बागवानी उत्पाद (Horticultire Products) का एक्सपोर्ट भी बढ़ेगा. इसमें केले, स्ट्रॉबेरी और मशरूम शामिल हैं.

10. कुशीनगर एयरपोर्ट 260 करोड़ रुपये की लागत से 3600 sqm एरिया में बना है. इसका नया टर्मिनल पीक टाइम में भी 300 पैसेंजर्स को संभाल सकता है.
बता दें, मौजूदा समय में उत्तर प्रदेश में दो इंटरनेशनल एयरपोर्ट हैं- लखनऊ का चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट और वाराणसी का लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट. इसके अलावा, गौतमबुद्ध नगर में जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भी काम चल रहा है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.