जानिए क्यों इस महिला ने चिता से उठवा दिया पति का शव

खबरे सुने

देवरिया के भटनी थाना क्षेत्र के घांटी निवासी एक युवक की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में हो गई। परिवारीजन उसके शव को अंतिम संस्कार करने घाट पर पहुंचे थे कि मायके से आई पत्नी ने परिवारीजनों पर आरोप लगाते हुए शव के पोस्टमार्टम की मांग करने लगी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को शमशान घाट से उठवाकर पोस्टमार्टम के लिए देवरिया भेज दिया।

घाटी खास गांव निवासी डिम्पल तिवारी पुत्र हरेराम तिवारी  के परिजनों की मानें तो रात में भोजन करने के बाद डिम्पल  सोने  चले गए।  परिवारीजनों की सुबह नींद खुली तो डिम्पल बिस्तर पर ही मृत पड़ा था। अंतिम संस्कार के लिए परिवारीजन उसके शव को लेकर क्षेत्र के छोटी गण्डक घाट स्थित  जंगली नाथ स्थान पहुंचे।  जहां शव के अंतिम संस्कार की तैयारियां चल रही थीं। इसी बीच डिम्पल की पत्नी संगीता अपने भाई भोला के साथ पहुंच गयी। वह परिवारीजन पर आरोप लगाते हुए शव के पोस्टमार्टम कराने की मांग करने लगी।  संगीता के भाई ने घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी।

डिम्पल का विवाह तीन साल पहले तरकुलवां थाना क्षेत्र के सोनहुला गांव निवासी मणि चतुर्वेदी की बेटी संगीता से हुई थी। संगीता कुछ दिन पहले ही अपने मायके गयी थी। हत्या के आरोप का मामला सामने आते ही स्थानीय थानेदार गोपाल पाण्डेय हमराहियों के साथ घाट पर पहुंचे जहां से शव को पोस्टमार्टम के लिए देवरिया भिजवा दिया। पुलिस के अनुसार मौत के कारणों का पता पीएम रिपोर्ट आने पर ही लग पाएगा। पत्नी की सूचना पर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.