Home उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश में चेक मीटर लगाने का निर्देश बिजली मीटर तेज चलने...

उत्तर प्रदेश में चेक मीटर लगाने का निर्देश बिजली मीटर तेज चलने पर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि मीटर जम्प करने या तेज चलने संबंधी समस्याओं की शिकायत आते ही तत्काल उपभोक्ता के परिसर में चेक मीटर लगाया जाए। ऊर्जा मंत्री ने मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के मुख्यालय पर राजधानी की विद्युत आपूर्ति की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि किसी उपभोक्ता के मीटर जम्प करने या तेज चलने संबंधी समस्याओं की शिकायत आते ही तत्काल उपभोक्ता के परिसर में चेक मीटर लगाया जाए। यह चेक मीटर किसी अन्य कंपनी का हो यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कहा कि उपभोक्ता की संतुष्टि जरूरी है। इसके लिए ऊर्जा विभाग को प्रभावी कदम उठाने होंगे।

ऊर्जा मंत्री ने निर्देश दिए कि आगामी गर्मियों के ²ष्टिगत राजधानी व डिस्कॉम के अधीन आने वाले सभी महानगरों में ट्रिपिंग फ्री निर्बाध आपूर्ति के लिए आवश्यक संसाधन जुटाने व अपने वितरण नेटवर्क को सुधारा जाए।

श्रीकांत ने कहा कि सभी चीफ इंजीनियर अपने अधीन उपकेंद्रों का ऑडिट कर लें, जहां भी कमियां हैं उनको दुरुस्त करने के सभी कार्य समय से पूरे हो जाएं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बिजली की कोई कमी नहीं है। दीपावली में उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली मिलेगी। उन्होंने निर्बाध आपूर्ति के लिए अतिरिक्त तैयारियों की समीक्षा के भी निर्देश दिए।

उन्होंने डोर नॉक अभियान की भी समीक्षा की और कहा कि अधिकारी उपभोक्ताओं की सुनें, उनकी समस्याओं का निराकरण करें। बकायेदार उपभोक्ताओं की बिजली काटने की बजाय उनके दरवाजे खटखटाएं, उन्हें जरूरी सहूलियत दें। डिस्कनेक्शन कोई विकल्प नहीं है। “हमें उपभोक्ताओं से जुड़ना होगा, इसके लिए स्वयं से ईमानदार प्रयास करने की आवश्यकता है।”