अवैध निर्माण, संपत्तियों की सैटेलाइट से होगी निगरानी

खबरे सुने

एलडीए जीआईएस मैपिंग के जरिए अवैध निर्माणों पर नजर रखेगा। इसके लिए तेजी से काम चल रहा है। शुक्रवार को प्राधिकरण सचिव पवन कुमार गंगवार ने इस मामले में जिम्मेदार अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने जीआईएस वन मैप का काम शीघ पूरा करने का निर्देश दिया है।

जीआईएस वन मैप बनने से प्राधिकरण अवैध निर्माणों की जानकारी कार्यालय से बैठे बैठे ले सकेगा। इसमें उसे निर्माणाधीन इमारतों की सैटेलाइट इमेज मिलती रहेगी। इससे पता चल सकेगा कि कहां कौन सी बिल्डिंग बन रही है। अगर कोई बिल्डिंग सील होगी और उस पर दोबारा निर्माण होगा तो उसके बारे में भी जानकारी हो जाएगी। एलडीए सचिव ने अधिकारियों से कहा कि वह वर्ष 2016 में एलडीए विकास क्षेत्र के लैण्ड आडिट कराकर संकलित किये गये जीआईएस डेटा को सुरक्षित करें। इसे प्राधिकरण की योजनाओं पर सुपर इम्पोजीशन किया जाएगा।

उन्होंने इसे प्राधिकरण हित में निरंतर उपयोगी बनाने के लिए एक कार्ययोजना भी बनाने का निर्देश दिया है। सचिव ने मास्टर प्लान, सजरा तथा सेटेलाइट इमेज का कार्य करने वाली संस्था से इसका काम शीघ्र पूरा करने को कहा है। उन्होंने कहा कि इससे लखनऊ विकास क्षेत्र में हो रहे वैध तथा अवैध निर्माण पर नजर रखी जा सकेगी। इनके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही भी की जा सकेगी। बैठक में मुख्य नगर नियोजक नितिन मित्तल, देवांश त्रिवेदी, प्रोग्रामर एनालिस्ट राघवेन्द्र मिश्रा भी उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.