Home खेल नरेंद्र मोदी स्टेडियम की पिच खराब थी तो क्यों रोहित शर्मा का...

नरेंद्र मोदी स्टेडियम की पिच खराब थी तो क्यों रोहित शर्मा का बल्ला चला?

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही चार मैचों की टेस्ट सीरीज में अब तक जो सबसे विवादित बात रही है वो है पिच। चेन्नई के बाद अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला गया टेस्ट मैच भी ज्यादा समय तक नहीं चला। करीब पौने दो दिन के खेल में ही मुकाबले का नतीजा निकल आया। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि पिंक बॉल टेस्ट मैच के लिए बनाई गई पिच खराब थी।

डे नाइट टेस्ट मैच दो दिन में खत्म होने पर पिच को लेकर सवाल उठना लाजिमी भी है, लेकिन यह भी देखना चाहिए कि उसी पिच पर एक बल्लेबाज ऐसा है, जिसने रन बनाए और कुछ प्रदर्शनीय शॉट भी खेले। ऐसे में पूरी तरह से पिच को खराब बताना भी सही नहीं होगा, क्योंकि टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने पहली पारी में नौ चौकों के साथ 66 रन बनाए थे। दूसरी पारी में भी रोहित शर्मा 100 की स्ट्राइक रेट से 25 रन बनाए।

दुनिया के सबसे बड़े और खूबसूरत क्रिकेट स्टेडियम में पहली पारी में रोहित शर्मा ने तो जोफ्रा आर्चर की उठती हुई गेंद पर प्वाइंट और कवर के बीच से शॉट खेला था, जो देखने लायक था। वहीं, दूसरी पारी में उन्होंने छक्का लगाकर जीत दिलाई। ऐसे में एक ऐसी पिच पर अच्छे शॉट खेलना क्या सिर्फ रोहित शर्मा के लिए ही आसान था। हालांकि, इससे एक बात पता चल जाती है कि बल्लेबाज जीनियस हो तो किसी भी पिच पर रन कूट सकता है।

पहले भी ऐसे अनगिनत मौके आए हैं, जहां उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। सिर्फ रोहित ही नहीं, बल्कि तमाम ऐसे खिलाड़ी हैं जो कभी भी पिच का रोना नहीं रोते। हालांकि, मैच के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि दोनों टीमों की ओर से खराब बल्लेबाजी हुई और मैच दो ही दिन चल सका, लेकिन चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच को भी नहीं भूलना चाहिए, जहां रोहित शर्मा ने शतक जड़ा था। उस पिच पर भी बल्लेबाजी करना आसान नहीं था।