लंदन: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के महल विंडसर कैसल की सुरक्षा में एक युवक ने सेंध लगा ली. पुलिस ने 19 साल के इस युवक को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया है. अब इस युवक को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. जसवंत सिंह चैल है नाम ब्रिटेन की मीडिया के मुताबिक इस युवक का नाम जसवंत सिंह चैल (Jaswant Singh Chail ) बताया जा रहा है. एक वीडियो फुटेज में वह कहता नजर आ रहा है कि ‘मुझे खेद है. मैंने जो किया है और जो मैं करूंगा उसके लिए मुझे खेद है. मैं शाही परिवार की महारानी एलिजाबेथ की हत्या का प्रयास करूंगा. यह उन लोगों का बदला है जो 1919 के जलियांवाला बाग हत्याकांड में मारे गए हैं. आरोपी ने अपनी आवाज को विकृत करने के लिए एक फिल्टर का इस्तेमाल किया है. क्या है वीडियो में यह वीडियो संदेश जसवंत सिंह चैल ने अपने दोस्तों को स्नैपचैट पर क्रिसमस के दिन सुबह 8:06 बजे भेजा था. 24 मिनट बाद पुलिस ने विंडसर कैसल के मैदान में संदिग्ध को गिरफ्तार किया था. वीडियो में संदिग्ध युवक कहता है, यह उन लोगों के लिए भी बदला है जो अपनी जाति के कारण मारे गए, जो अपमानित हुए और भेदभाव के शिकार हुए. मैं एक भारतीय सिख हूं. मेरा नाम जसवंत सिंह चैल था, अब मेरा नाम डार्थ जोन्स है. वीडियो के साथ स्नैपचैट पर एक संदेश भी भेजा गया था जिसमें कहा गया था: ‘मुझे उन सभी के लिए खेद है, जिन्होंने मेरे साथ अन्याय किया है या झूठ बोला है. ‘यदि यह वीडियो आपको यह मिल गया है तो मेरी मृत्यु निकट है. कृपया इसे (वीडियो को) किसी के साथ साझा करें. यह भी पढ़िए- छत्तीसगढ़ः एक कार्यक्रम में महात्मा गांधी के लिए कही गईं अपमानजनक बातें धनुष लेकर घुसा था महल में इस वीडियो में संदिग्ध युवक तीर-धनुष लिए है और वह कैमरे की ओर मुंह करके धमकी दे रहा है. इस युवक ने अजीब हुडी और एक मुखौटा पहना हुआ था, जो स्टार वार मूवी जैसा लग रहा था. संदिग्ध युवक का पुलिस ने अभी तक नाम नहीं लिया है. उसे सीसीटीवी में बाहरी दीवार पर चढ़कर घूमते हुए देखा गया था. बाद में उन्हें मेंटल हेल्थ एक्ट के तहत धारा लगाकर गिरफ्तार किया गया है. ऊधम सिंह की जयंती से क्या है कनेक्शन बता दें कि जलियांवाला बाग हत्याकांड, या अमृतसर के नरसंहार में, भारत में ब्रिटिश सेना द्वारा 379 प्रदर्शनकारी मारे गए और 1,200 घायल हुए. जलियाँवाला बाग अमृतसर के स्वर्ण मन्दिर के पास का एक छोटा सा बगीचा है. यहीं 13 अप्रैल 1919 को ब्रिगेडियर जनरल रेजिनाल्ड एडवर्ड डायर के नेतृत्व में अंग्रेजी फौज ने गोलियां चला के सैकड़ों निहत्थे लोगों को मार डाला था. कल 26 दिसंबर को जिस दिन यह संदिग्ध युवक गिरफ्तार हुआ था उसी दिन क्रांतिकारी ऊधम सिंह की जयंती है जिन्होंने जलियावालां बाग का बदला लेने के लिए एक अंग्रेज अधिकारी की गोली मारी थी. सरदार ऊधम सिंह भारत के स्वतन्त्रता संग्राम के महान सेनानी एवं क्रान्तिकारी थे, इनका जन्म 26 दिसम्बर 1899 को हुआ था.

खबरे सुने

लंदन। इंटरनेट मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें मास्क से चेहरे को पूरी तरह ढकने वाले एक युवक ने वर्ष 1919 के जलियांवाला बाग नरसंहार का बदला लेने के लिए ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की हत्या करने का एलान किया है। खुद को भारतीय सिख बताने वाले इस युवक को महारानी के विंडसर कैसल महल से गिरफ्तार किया गया है। प्रिंस चा‌र्ल्स एवं उनकी पत्नी कैमिला भी इन दिनों विंडसर कैसल में क्रिसमस की छुट्टियां बिता रहे हैं। स्काटलैंड यार्ड ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

द सन समाचार पत्र की रिपोर्ट के अनुसार, आरोपित ने अपना नाम जसवंत सिंह चैल बताया है। इस बीच मेट्रोपोलिटन पुलिस ने बिना नाम लिए हुए कहा कि एक 19 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया गया है और उसे मानसिक चिकित्सालय भेजा गया है। गिरफ्तार संदिग्ध के मूल्यांकन के बाद उसके खिलाफ ब्रिटेन के मानसिक स्वास्थ्य कानून के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है। पुलिस उसके साउथम्पटन स्थित घर की छानबीन कर रही है, जहां कथित तौर पर वह परिवार के साथ रहता है। स्काटलैंड यार्ड के अधिकारी विंडसर कैसल से क्रिसमस के दिन तीर-कमान (क्रासबो) के साथ गिरफ्तार किए गए युवक से जुड़े वीडियो की जांच करे हैं।

पुलिस को जांच में पता चला है कि आरोपित ने गिरफ्तारी 24 मिनट पहले स्नैपचैट पर वीडियो अपलोड किया था। ‘स्टार वार्स’ फिल्म के किरदार की तरह मास्क व हुड वाली जैकेट पहने आरोपित ने वीडियो संदेश में कहा, ‘मैं भारतीय सिख हूं। मेरा नाम जसवंत सिंह चैल है। ..मेरी मौत नजदीक है। अगर आपको यह वीडियो मिले तो इसे दिलचस्पी रखने वाले लोगों तक पहुंचाएं.. मैंने जो किया और जो करने जा रहा हूं, उसके लिए माफ करना। मैं महारानी एलिजाबेथ की हत्या का प्रयास करूंगा। यह जलियांवाला बाग नरसंहार का बदला होगा, जहां लोगों को जातीय आधार पर मारा और बेइज्जत किया गया था।’ अप्रैल 2019 में बैसाखी के दिन ब्रिटिश सेना के कर्नल रेजिनाल्ड डायर ने भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों पर गोलियां बरसा दी थीं, जिसमें सैकड़ों लोग मारे गए थे।

इस वीडियो में संदिग्ध युवक तीर-धनुष लिए हुए है। वह कैमरे की ओर मुंह करके धमकी दे रहा है। इस युवक ने अजीब हुडी और एक मुखौटा पहना हुआ था, जो स्टार वार मूवी जैसा लग रहा था। उसे सीसीटीवी में बाहरी दीवार पर चढ़कर घूमते हुए देखा गया था। बाद में उन्हें मेंटल हेल्थ एक्ट के तहत धारा लगाकर गिरफ्तार किया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.