गृह मंत्री अमित शाह पहुँचे सहारनपुर,माँ शाकुम्भरी विश्वविद्यालय का किया शिलान्यास

राजसत्ता पोस्ट न्यूज़ पोर्टल

सीएम योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में दूरियां घटा कर दिलों को जोड़ने का काम किया है,भय और आतंक दिखाकर पलायन करने वाले अब
खुद पलायन कर चुके – गृहमंत्री अमित शाह

प्रदेश की सुरक्षा और कानून व्यवस्थ को और चुस्त-दुरूस्त
बनाने के लिए प्रयास जारी – मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

माँ शाकुम्भरी विश्वविद्यालय का शिलान्यास

(हरदीप बेदी)

सहारनपुर।भारत सरकार के केन्द्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने उत्तर प्रदेश में दूरियां घटा कर दिलों को जोड़ने का काम किया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश से जनता को भय और आतंक दिखाकर पलायन करने वाले अब खुद पलायन कर चुकें है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की चीनी मिलों को औने-पौने दामों में बेचने वालों की सी.बी.आई. जांच चल रही है। उन्होंने कहा कि किसानों के हितों की किसी भी स्तर पर अनदेखी नहीं होने दी जायेंगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में बहुत बडा यज्ञ चल रहा है जिसके चलते आज पवित्र और ऐतिहासिक भूमि पर मां शाकुम्भरी राजकीय विश्वविद्यालय का शिलान्यास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि प्रदेश में सुरक्षा और कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त बनाने के लिए बेहरत प्रयास किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों में गन्ना किसानों के भुगतान नहीं करती थी। वह सहारनपुर में सिखों की दुकानों को लूटने औ और मुजफ्फरनगर में दंगे कराये गये तथा हमारी आस्था पर कुठाराघात करने का प्रयास किया गया।


अमित शाह आज पुंवारका में 92 करोड़ रूपये की लागत से 50.43 एकड़ में बनने वाले मां शाकुम्भरी विश्वविद्यालय के शिलान्यास कार्यक्रम में जनता को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होने कहा कि वर्तमान सरकार ने सडकों के जाल बिछाने से रास्तों की दूरियों के साथ ही दिलों की दूरियों को भी कम किया है। केन्द्र सरकार ने 07 वर्षों में पिछडे, दलित, शोषित तथा हर गरीब व्यक्ति के घर तक गैस सिलेण्डर, बिजली, शौचालय, 05 लाख रूपये तक की स्वास्थ्य सुविधा पंहुचाने का कार्य किया है। कोरोना काल में प्रति व्यक्ति 05 किलोग्राम राशन देने का ऐतिहासिक कार्य किया गया है। वर्तमान सरकार में पूर्व की सरकारों की तुलना में डकैती में 70 प्रतिशत, हत्या में 30 प्रतिशत, लूट में 69 प्रतिशत तथा दहेज में 22.5 प्रतिशत की कमी आई है। आज उत्तर प्रदेश में कानून कर राज है तथा प्रदेश को माफियाओं से मुक्ति मिली है।

माफियाओं से हजारों करोड़ की सम्पत्ति को कब्जा मुक्त कराया गया है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में अवैध कत्लखानों पर कार्यवाही कर गऊ हत्या पर शिकंजा कसा है। उन्होने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश से गुण्डाराज, माफियाराज खत्म कर जनता को सम्मान दिलाने का कार्य वर्तमान सरकार ने किया है। प्रदेश सरकार ने साढे चार वर्षों में 01 लाख 44 हजार करोड़ रूपये का रिकार्ड गन्ना भुगतान किया है। उन्होने कहा कि आज उत्तर प्रदेश में परिवर्तन से पलायन रूका है और शिक्षा प्राप्त करने के लिए भी छात्रों को दूसरे प्रेदशों मे नही जाना पडता।


केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि देश में 70 साल से लंबित धारा 370, ट्रिपल तलाक, राज जन्मभूमि का फैसला आदि ऐतिहासिक कार्य केन्द्र सरकार ने किए है । आज अयोध्या में आसमान को छूने वाले मन्दिर का निर्माण हो रहा है। पूर्व की सरकार में पाकिस्तान से आतंकी आकर देश में तांडव करते थे लेकिन आज सर्जिकल स्ट्राईक कर सरकार ने यह सिद्ध कर दिया है कि कोई भी भारत की सीमाओं का अतिक्रमण नहीं कर सकता।


प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सहारनपुर अपने हस्तकलां और औद्योगिक गतिविधियों व कृषि के लिए अपनी विशेष पहचान रखता है। पूर्व की सरकारों के पास विकास का एजेण्डा न होने के कारण यहां का युवा पलायन करने को मजबूर था। जातिवाद तथा परिवारवाद की राजनीति और दंगों से प्रदेश की तस्वीर बदरंग हो रही थी। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री जी एवं गृहमंत्री जी के मार्गदर्शन एवं कुशल नेतृत्व में प्रदेश आज देश के विकास में अग्रणी भूमिका निभा रहा है। उन्होने कहा कि पूर्व की सरकारों में विकास के नाम पर बंदरबांट होता था। उन्होंने कहा कि दंगों में दुकानें जलायी जाती थी और महिनों जनता को कर्फ्यू की मार झेलनी पडती थी। उन्होंने कहा कि दंगाईयों को लखनऊ में बुलाकर सम्मानित किया जाता था। आज व्यापारियों तथा महिला शक्ति की सुरक्षा एवं सम्मान के साथ ही किसानों की आय दोगुने करने के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है।


श्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश विकास की नयी बुलंदियों को छू रहा है। गन्ना किसानों का गन्ना मूल्य भुगतान समयबद्धता के साथ किया जा रहा है। हाईवे, मैट्रो, ऐयर कनेक्टिविटी, विश्व विद्यालय, महा विद्यालय, सुरक्षा तथा कानून व्यवस्था के साथ-साथ विश्वास का सृजन हुआ है। उन्होने कहा कि मां शाकुम्भरी विश्वविद्यालय से जारी डिग्री पर मां शाकुम्भरी की फोटो होगी। आज शिलान्यास के साथ ही विश्वविद्यालय का नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया जाएगा। विश्वविद्यालय से 264 महाविद्यालयों को जोडा जाएगा। उन्होने कहा कि आज देश सुरक्षित हाथों में है तथा विश्व में अपनी नयी पहचान बना रहा है।
केन्द्रीय शिक्षा,कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में विश्वविद्यालय, महाविद्यालय, अस्पताल, आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने का काम किया है। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की पहल पर गरीबों के घर आनाज पहुंचाने तथा उज्जवला योजना के अंतर्गत गैस सिलण्डेर देने का काम किया है।
उप मुख्यमंत्री डॉ0 दिनेश शर्मा जी ने कहा कि मां शाकुम्भरी विश्वविद्यालय के निर्माण का कार्य 18 माह में पूरा कर लिया जायेंगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने छात्रों की छात्रवृत्ति रोक दी थी। योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने 40 लाख अतिरिक्त छात्रों की छात्रवृति जारी की गयी है। योगी आदित्यनाथ जी ने प्रदेश में भय और आतंक को कम करने का काम किया है। अपराधी को उनके ठिकानों पर भेजा गया है। उन्होंने कहा कि पहले 11 लाख करोड़ रूपए की अर्थ व्यवस्था जो अब 22 लाख करोड़ की हो गयी है तथा 4.58 लाख युवाओं को रोजगार देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकार में बेरोजोगारी दर 17.4 प्रतिशत थी जो अब 4.1 प्रतिशत है।
इस अवसर आयोजित भव्य कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री डॉ0 संजीव बालियान, कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, पंचायतीराज मंत्री भूपेन्द्र चौधरी, गन्ना मंत्री सुरेश राणा, आयुष मंत्री डॉ0 धर्म सिंह सैनी, राज्य मंत्री सुश्री नीलिमा कटियार,मंत्री कपिल देव अग्रवाल,मंत्री दिनेश खटीक, अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग आयोग जसवंत सैनी, सांसद प्रदीप चौधरी, क्षेत्रीय अध्यक्ष भाजपा मोहित बेनीवाल, देवबन्द विधायक ब्रजेश सिंह,मुजफ्फरनगर जिलापंचायत अध्यक्ष डॉक्टर वीरपाल निर्वाल,बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक,भाजपा जिलामंत्री मुजफ्फरनगर वैभव त्यागी,सुधीर खटीक,पुरषोत्तम गौतम,विजय राठी,देवबंद ब्लाक प्रमुख विजय त्यागी,रोहन त्यागी, देवेन्द्र निम, किरत सिंह, मेयर संजीव वालिया तथा जिला पंचायत अध्यक्ष मांगे राम चौधरी व पूर्व सांसद राघव लखन पाल शर्मा,सहित मण्डल के तीनों जनपद के जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.