प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- गेम के माध्यम से कुपोषण दूर करने में करें मदद
K

नई दिल्ली: खिलौना उद्योग को बढ़ावा देने के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ट्वाय कथॉन 2021 को संबोधित कर रहे हैं। देशभर के प्रतिभागी इस कार्यक्रम से जुड़े हुए हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री ने भारतीय भोजन और जंक फूड के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से चर्चा की। इस दौरान पीएम ने प्रतिभागियों से कुपोषण दूर करने की अपील की। उन्होंने कहा कि छोटे बच्चे हेल्दी खाना खाने से बचते हैं, जिसकी वजह से वह कुपोषण के शिकार हो जाते हैं, ऐसे में खेल के माध्यम से उन्हें सतर्क किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि गेम वार के माध्यम से हम अपने बच्चों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक कर सकते हैं। पीएम मोदी ने खेल-खेल में गणित सिखाने वाले प्रतिभागियों का आभार जताया। 

खिलौना इंडस्ट्री पर प्रतिभागियों की राय सुनने और इसे विकसित करने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुलकर बातचीत की। पीएम ने कहा कि खेल के जरिए मानवीय मूल्यों को बल देना भी जरूरी है। इससे समाज पर एक सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। इस कार्यक्रम का मुख्य उदेश्य अभिनव खिलौनों और गेम्स के लिए नए विचारों को दुनिया में फैलाना है। ट्वाय कथॉन का आयोजन शिक्षा मंत्रालय, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, एमएसएमई मंत्रालय, डीपीआईआईटी, कपड़ा मंत्रालय, सूचना और प्रसारण मंत्रालय तथा एआईसीटीई संयुक्त रूप से करता है। 

दरअसल, पीएम मोदी ने बुधवार को ट्वीट कर खुद ही जानकारी दी थी कि 24 जून को ट्वाय कथॉन को संबोधित करूंगा। भारत के घरेलू बाजार के साथ-साथ वैश्विक खिलौना बाजार हमारे विनिर्माण क्षेत्र के लिए एक बड़ा अवसर प्रदान करता है। ट्वाय कथॉन-2021 का मकसद भारत में खिलौना उद्योग को बढ़ावा देना है, ताकि खिलौना बाजार के व्यापक हिस्से पर भारत आगे रहे। 

Share this story