सर लुडविग गट्टमन के 122वें जन्मदिन पर गूगल ने बनाया डूडल

k

कई बार गूगल के होम पेज पर किसी के जन्मदिन का डूडल दिखता है तो कभी किसी खास मौके पर गूगल डूडल बनाता है। आज यानी तीन जुलाई को गूगल ने सर लुडविग गट्टमन के सम्मान में डूडल बनाया है जिसे आप गूगल के होम पेज पर देख सकते हैं। बता दें कि पैरा ओलंपिक गेम्स की शुरुआत सर लुडविग गट्टमन की ही देन है। सर लुडविग गट्टमन को पैरा ओलंपिक गेम्स का जनक भी कहा जाता है।

लुडविग गट्टमन का जन्म पौलेंड की तोस्त नामक जगह पर तीन जुलाई 1899 को हुआ था। गट्टमन एक जाने-माने न्यूरोलॉजिस्ट थे। रीढ़ की हड्डी की चोटों के इलाज में उन्हें महारत हासिल थी। हिटलर के उदय के बाद सर लुडविग गट्टमन को जर्मनी छोड़ना पड़ा। उसके बाद वे 1939 में इंग्लैंड में बस गए।

1948 में उन्होंने पहली बार दिव्यांगों के लिए  (Archery) मुकाबले का आयोजन कराया था। दुनिया में दिव्यांगों के लिए किया गया यह पहला गेम्स इवेंट था। बाद में इसे पैरा ओलंपिक गेम्स नाम दिया। शुरुआती दौर में पैरा ओलंपिकगेम्स को स्टॉक मेंडेविल्ले गेम्स कहा जाता था। बता दें कि गट्टमन के अस्पताल का नाम भी स्टॉक मेंडेविल्ले ही था।

1960 में पहली बार पैरा ओलंपिक गेम्स का आयोजन हुआ और इसका पूरा श्रेय लुडविग गट्टमन को जाता है। पैरा ओलंपिक गेम्स की बदौलत दिव्यांगों के जीवन को एक नई दिशा मिली और उन्होंने दुनिया को अपनी काबिलियत दिखाई। बताते चलें कि इस साल भी पैरा ओलंपिक गेम्स 24 अगस्त से 5 सितंबर 2021 के बीच होने वाले हैं।

Share this story