Home LyfeStyle लड़कियां इन 5 खूबियों को तलाशती हैं लड़कों में

लड़कियां इन 5 खूबियों को तलाशती हैं लड़कों में

वैसे तो हर व्यक्ति की पर्सनैलिटी अलग होती है और इसी के अनुसार वह साथी पाने की भी चाहत रखता है। लेकिन कुछ खूबियां ऐसी हैं, जिन्हें एक लड़की अपने मेल पार्टनर में जरूर चाहती है। ये खासियत लुक्स या पैसे से नहीं बल्कि व्यक्तित्व से जुड़ी हैं, जो शायद किसी भी अच्छे इंसान में पहले से ही मौजूद होती हैं। चलिए जानते हैं ऐसी 5 खूबियों के बारे में जिन्हें एक लड़की अपने बॉयफ्रेंड में चाहेगी।

सम्मान करने वाला
कई लोग कहते हैं कि रिश्ते में प्यार सबसे अहम है, लेकिन सच तो ये है कि इससे भी ज्यादा अहम है सम्मान। आप भले ही अपनी गर्लफ्रेंड को कितना ही पैंपर क्यों न कर लें, पर अगर आप उन्हें रिस्पेक्ट नहीं दे सकते, तो कोई भी सेल्फ रिस्पेक्ट वाली लड़की आपके साथ ज्यादा दिनों तक नहीं रह पाएगी।
पुरुष प्रधान समाज में रहते हुए लड़की वैसे ही कई तरह की सोच का सामना करती है, ऐसे में अगर उसे साथी भी ऐसा मिल जाए, जो उसकी सोच या काम का सम्मान न करता हो, तो भला वह उसके साथ कैसे रह पाएगी?

अंडरस्टैंडिंग नेचर

आपसी समझ तो हर रिश्ते में जरूरी होती है। अगर ये ही नहीं होगी, तो गलतफहमी से लेकर न जाने कितनी नेगेटिव चीजें रिलेशनशिप का पार्ट बन जाएंगीं। अगर ऐसा बॉयफ्रेंड हो जो अंडरस्टैंडिंग हो, तो लड़की को अपने थॉट्स या प्रॉब्लम्स शेयर करने में हिचकिचाहट नहीं होती। यह बेहतर कम्यूनिकेशन को बनाए रखने में मदद करता है, जिससे इमोशनल बॉन्ड को स्ट्रॉन्ग होता है।

फॉर ग्रैन्टिड न लेना

रिश्ते को सबसे ज्यादा कोई चीज तोड़ती है, तो वह है व्यक्ति का अपने साथी को फॉर ग्रैन्टिड लेना। साथ में टाइम स्पेंड करने के लिए समय न निकालना, मेसेज या कॉल का घंटों तक रिप्लाई न देना, डेट के लिए या कहीं घूमने जाने के लिए अरुचि दिखाना, गर्लफ्रेंड की लाइफ में क्या चल रहा है इसमें रुचि न दिखाना जैसी चीजें दिखाती हैं कि आप रिश्ते को फॉर ग्रैन्टिड ले रहे हैं। ऐसा जब होता है, तब भले ही आपस में कितना ही प्यार क्यों न हो, लेकिन रिश्ता टूटने की कगार पर पहुंच ही जाता है।

केयरिंग

केयर करना प्यार को जताने का सबसे अच्छा तरीका होता है। मुश्किल समय में पार्टनर के साथ रहने से लेकर ठंड लगने पर शॉल उड़ाने जैसी छोटी चीज तक, केयरिंग में काउंट की जाती है। सबसे अहम तो ये है कि अगर कोई किसी की सच में केयर करता है, तो वह उसे कभी हर्ट करने वाली चीजें करता ही नहीं है। यह लड़की को इमोशनली सिक्यॉर होने में भी मदद करता है।

दयालु

हर कोई दयालु साथी चाहता है। अगर कोई दिल से ऐसा हो, तो यह मानकर चलिए कि वह केयरिंग, अंडरस्टैंडिंग और रिस्पेक्ट करने वाला व्यक्ति होगा। दया का भाव तभी किसी में आ सकता है जब वह दूसरे से सिंपथी या एम्पथी के जरिए जुड़े और ये दोनों ही भाव ऐसे हैं, जो व्यक्ति को बेहतर इंसान बनाते हैं। लड़कियां भी ऐसे व्यक्तियों की तरफ ज्यादा आकर्षित होती हैं।