Home LyfeStyle आसानी से छुटकारा पाएं डैंड्रफ, ड्राइनेस और दोमुंहे बालों से रिवर्स हेयर...

आसानी से छुटकारा पाएं डैंड्रफ, ड्राइनेस और दोमुंहे बालों से रिवर्स हेयर वॉश के जरिए…

आजकल बालों का झड़ना, ड्राई होना, डैंड्रफ, बालों का उलझना और दोमुंहे होना जैसी समस्या हर किसी को हो रही है। सभी को स्वस्थ और मज़बूत बालों की चाहत होती है लेकिन हर बार सलॉन का चक्कर लगाने में समय की बर्बादी और बजट भी आड़े आता है। रिवर्स वॉशिंग या कहें कि प्री- कंडिशनिंग से बालों को कुछ समस्याओं से सुलझाया जा सकता है, जानें कैसे।

कैसे काम करता है रिवर्स हेयर वॉश

रिवर्श हेयर वॉश में शैंपू करते हैं तो धूल और गंदगी हटाने के साथ ही यह बालों के नैचरल ऑयल्स को भी हटाता है, जो बालों को शाइन देते हैं और उन्हेंं प्रोटेक्ट करते हैं। बाद में कंडिशनिंग करने पर बालों पर आॢटफिशियल ऑयल्स की एक परत बन जाती है। इससे न सिर्फ बाल जल्दी ऑयली हो जाते हैं बल्कि धीरे-धीरे उनकी नैचरल शाइन खत्म होने लगती है। ऐसे में जब हम रिवर्स प्रोसेस आज़माते हैं यानी कि पहले बालों की कंडिशनिंग करते हैं तो बालों के ऊपर एक प्रोटेक्टिव लेयर चढ़ती है, जिससे शैंपू करने पर बालों के नैचरल ऑयल्स को नुकसान नहीं पहुंचता। इससे बालों में शाइन और वॉल्यूम भी बना रहता है।

हेयर टाइप्स के अनुसार जानें

हेयर एक्सपर्ट निक्की शमीम बताते हैं कि हर मौसम में बालों की देखभाल का तरीका भी बदल जाता है। जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है कि यह आम हेयर वॉशिंग की तरह ही सिंपल है, लेकिन बस इस प्रोसेस को उल्टा कर दिया गया है। इस प्रोसेस को अपनाते समय ध्यान रखें 2 रिवर्स हेयर वॉशिंग सेशंस में कम से कम 3-4 दिन का गैप ज़रूर होना चाहिए। रिवर्स हेयर वॉशिंग से पहले बालों में तेल भी न लगाएं क्योंकि यह बालों से तेल को हटने नहीं देगा :-

1. अगर बाल हों ऑयली: रिवर्स वॉश के बेहतरीन रिज़ल्ट्स ऑयली बालों पर ही देखे गए हैं। यह तरीका अपनाने से न तो बाल बहुत जल्दी ऑयली होते हैं और न ही फ्लैट दिखते हैं।

2. बाल हों अगर रूखे: ड्राई बालों में फ्रिंज़ और स्प्लिट-एंड्स तो कंट्रोल हो जाते हैं, लेकिन यह प्रोसेस लगातार फॉलो करने पर बालों के और ज़्यादा ड्राई होने का खतरा बना रहता है। ऐसे में ड्राई बालों के लिए हफ्ते में 1 बार ही रिवर्स हेयर वॉश करना ठीक है या फिर इसके बाद किसी हाइड्रेटिंग सीरम या लिव-इन कंडिशनर का इस्तेमाल करें।

3. जब बालों का हो थिन टेक्सचर: पतले और बेजान बालों पर भी रिवर्स हेयर वॉशिंग के बाद न सिर्फ ज़्यादा वॉल्युमिनस नजऱ आते हैं, बल्कि इनमें शाइन भी आता है।

फायदे और भी हैं…

यह प्रक्रिया स्कैल्प को साफ करने से पहले हेयर फॉलिक्स को रिपेयर करने में मदद करती है, जिससे बाल हेल्दी और हाइड्रेटेड दिखाई देते हैं। हालांकि, अगर आप इस प्रक्रिया की वजह से ड्राई और रफ एंड्स (नीचे के बालों) से डरती हैं, जो सप्ताह में सिर्फ एक बार ही रिवर्स हेयर वॉश अपनाएं। इसके अलावा ड्राई एंड्स से छुटकारा पाने के लिए प्रचुर मात्रा में कंडिशनर का इस्तेमाल करें, लेकिन उसे धोएं नहीं, बल्कि थोड़े से पानी से हलका रिंस करें। उसके बाद ही शैंपू करें।