ईडी ने कसा शिकंजा: यूनिटेक के पूर्व प्रवर्तक चंद्रा बंधु गिरफ्तार, मुंबई की जेल से दिल्ली लाए गए

खबरे सुने

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यूनिटेक समूह के पूर्व प्रमोटरों- अजय चंद्रा और संजय चंद्रा को मनी लांड्रिंग के एक मामले में गिरफ्तार कर लिया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा दोनों भाइयों को हिरासत में लेकर नए साक्ष्यों के आधार पर पूछताछ की अनुमति दिए जाने के बाद ईडी ने उन्हें गिरफ्तार किया है।

समझा जाता है कि ईडी ने चंद्रा बंधुओं के खिलाफ नए साक्ष्य एकत्रित किए हैं। अब वह दोनों को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ करना चाहती है। इसके लिए उन्हें हिरासत में लेना जरूरी है।

चंद्रा बंधु पहले मुंबई की एक जेल में बंद थे। सोमवार को उन्हें दिल्ली की एक जेल में लाया गया। मंगलवार सुबह ईडी ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

संघीय एजेंसी ने इस साल अगस्त में चंद्रा बंधुओं के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एक रिपोर्ट प्रस्तुत की थी। इसमें आरोप लगाया गया था कि दोनों भाई तिहाड़ जेल में बंद रहने के बावजूद भूमिगत कार्यालय चला रहे हैं। रिपोर्ट में यह आरोप भी लगाया गया था कि तिहाड़ जेल के कुछ अधिकारी जेल के अंदर से कार्यालय चलाने में इन दोनों भाइयों की मदद कर रहे हैं। लंबे समय तक चली सुनवाई के बाद शीर्ष अदालत ने दिल्ली पुलिस को यह मामला देखने के लिए कहा था।

सुप्रीम कोर्ट ने दोषी पाए जाने पर कार्रवाई करने को कहा था। शीर्ष अदालत के आदेश के बाद दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने मामले की जांच के लिए एक समिति का गठन किया था। दिल्ली पुलिस आयुक्त ने एक रिपोर्ट तैयार की थी जिसमें आरोप लगाया गया था कि लगभग 36 जेल अधिकारी कथित तौर पर चंद्रा बंधुओं की मदद कर रहे थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.