Home उत्तराखंड दिल्ली रवाना उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत, अहम सुझाव देंगे पार्टी...

दिल्ली रवाना उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत, अहम सुझाव देंगे पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को

देहरादून। देश में कांग्रेस को मजबूत बनाने, नए अध्यक्ष के चयन और असंतुष्टों को साधने के लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पंजाब प्रभारी हरीश रावत कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अहम सुझाव देंगे। इस सिलसिले में शुक्रवार को रावत दिल्ली रवाना हो गए।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पार्टी के सामने मौजूद इन चुनौतियों को लेकर कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों और कोर ग्रुप से संवाद कर रही हैं। इस संबंध में शनिवार से बैठकें होंगी। इस बैठक में हरीश रावत भी शिरकत करेंगे। रावत पार्टी के केंद्रीय कोर ग्रुप का भी हिस्सा हैं। दून में शुक्रवार अपने आवास पर हरीश रावत माल्टा की दावत देने के बाद शाम को दिल्ली रवाना हो गए। बताया जा रहा है कि उन्हें पार्टी हाईकमान की ओर से बैठक के लिए बुलावा आया है।

गौरतलब है कि हरीश रावत पहले से ही राहुल गांधी को पार्टी का भविष्य और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पार्टी का सशक्त केंद्रबिंदु बताते रहे हैं। कांग्रेस को देश में विभिन्न राज्यों में मिल रही हार के बाद पार्टी के भीतर एक तबका पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठा रहा है। वहीं एक तबका पार्टी में असमंजस को दूर कर राहुल गांधी के हाथों में पार्टी की कमान सौंपने का पुरजोर पैरोकार है। संपर्क करने पर हरीश रावत ने दिल्ली रवाना होने की पुष्टि की।

सत्र से पहले योगाभ्यास करेंगे विधायक

विधानसभा के 21 दिसंबर से शुरू होने जा रहे तीन दिवसीय शीतकालीन सत्र से पहले विधायक योगाभ्यास करेंगे। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में 2018 से विधानसभा में हर माह की 21 तारीख को योगाभ्यास कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल के अनुसार इस बार पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि होंगे।विधानसभा अध्यक्ष अग्रवाल ने बताया कि शीतकालीन सत्र को देखते हुए इस बार 21 दिसंबर को विधानसभा परिसर में योग का भव्य कार्यक्रम होगा।

इस मौके पर आचार्य बालकृष्ण योग से संबंधित विषयों पर रोशनी डालेंगे। साथ 21 जून 2018 से चल रही योग श्रृंखला में मौजूद रहे विधानसभा के कार्मिकों को सम्मानित भी करेंगे।उन्होंने बताया कि विधायकों से भी आग्रह किया गया है कि वे कार्यक्रम में शामिल होकर योगाभ्यास करें। काफी संख्या में विधायकों ने इस संबंध में सहमति भी दे दी है। विस परिसर में कार्यक्रम सुबह साढ़े नौ से साढ़े 10 बजे तक चलेगा।