Home उत्तराखंड देवलथल में सक्रिय गुलदार को वन विभाग ने घोषित किया आदमखोर

देवलथल में सक्रिय गुलदार को वन विभाग ने घोषित किया आदमखोर

पिथौरागढ़ : देवलथल, कनालीछीना क्षेत्र में सक्रिय गुलदार को वन विभाग ने आदमखोर घोषित कर दिया है। गुलदार को मारने के लिए शिकारी भी नियुक्त किए गए हैं। शिकारियों के रविवार तक पहुंचने की संभावना है।

देवलथल क्षेत्र में विगत तीन माह से आदमखोर गुलदार का आतंक बना हुआ है। गुलदार ने अब तक चार महिलाओं को अपना शिकार बना लिया है। तीन  को घायल कर चुका है। तीन दिन पूर्व देवलथल और कनालीछीना के मध्य स्थित कापड़ी गांव में एक महिला कलावती देवी को गुलदार घर के आंगन से ही उठा कर ले गया। इससे पूर्व रसियापाटा, रिण क्षेत्र में तीन महिलाएं गुलदार का शिकार बनी थीं। वन विभाग ने तब भी गुलदार को आदमखोर घोषित कर शिकारी तैनात किया। शिकारी द्वारा एक गुलदार को मार गिराया।

इधर, तीन दिन पूर्व कापड़ी गांव में महिला को एक गुलदार ने फिर शिकार बनाया। इसके साथ ही गुलदार को आदमखोर घोषित कर मारने की मांग तेज हो गई है। वन रेंजर डीडीहाट पूरन सिंह देऊपा  ने बताया कि गुलदार को आदमखोर घोषित कर मारने के आदेश जारी हो चुके हैं। यह जानकारी उप प्रभागीय वनाधिकारी नवीन पंत ने दी है। रेंजर ने बताया कि इस समय वन विभाग की टीम क्षेत्र में गश्त लगा रही है। कापड़ी गांव में पिंजरा लगाया गया है। रविवार या सोमवार को शिकारियों के पहुंचने की संभावना है।